संवाद सहयोगी, आरएसपुरा : बारह दिन से चली आ रही सफाई कर्मचारियों की हड़ताल के कारण अब शहर की हालत बिलकुल बिगड़ चुकी है। हड़ताल के चलते शहर के नालों व चौक चौराहों की सफाई कहीं पर भी नहीं हो पाई है। साथ ही दो दिन हुई बारिश के कारण शहर की गलियों से लेकर मुख्य बाजार में कीचड़ जमा हो गया है। वहीं, नालियों व नालों की सफाई नहीं होने से शहर की गलियों व सड़कों पर पानी आ रहा है। शहर में विभिन्न जगहों पर बनाए गए डं¨पग जोन से कूड़े का न उठाने से भी अब गंदगी के ढेर लग चुके है। पूरा शहर अब गंदगी के ढेर में बदलता जा रहा है। लोगों का जीना मुहाल हो गया है। लोगों का कहना है कि ऐसे में बीमारियां फैलने का भय बढ़ गया है। पर सफाई कर्मचारी अभी अपनी हड़ताल को लेकर डटे हुए है।

बुधवार को भी सफाई कर्मचारियों की हड़ताल जारी रही। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाता है वह हड़ताल से वापस नहीं आने वाले है। वही, स्थानीय नगर पालिका ने दो दिन पूर्ण निजी मजदूर लगा शहर में सफाई करवाने के लिए काम शुरू करवाया था पर सफाई कर्मचारी एसोसिएशन ने उसे रूकवा दिया। यही नहीं इससे नाराज होकर सफाई कर्मचारियों ने गंदगी के ढेर उठा कर नगर पालिका के कार्यालय के बाहर लगा दिए। इसके बाद पालिका ने काम को बंद करवा दिया। हड़ताल से अब स्थानीय लोग तंग आ चुके हैं। आम नागरिक से लेकर आरएसपुरा मुख्य बाजार का दुकानदार हड़ताल से परेशान हो गया है। लोगों का कहना है कि राज्यपाल इस पर ध्यान दें और हड़ताल को समाप्त कराने के लिए सफाई कर्मचारी एसोसिएशन से बात करें।

नगर पालिका अध्यक्ष सतपाल पप्पी का कहना है कि वह इसको लेकर बुधवार को भी विभाग निदेशक से मिले थे। उन्होंने आश्वासन दिया है कि जल्द ही हड़ताल समाप्त कराने का प्रयास किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस