जम्मू, जागरण संवाददाता। जम्मू-कश्मीर और लद्दख में बर्फबारी और बारिश के बाद ठंड का प्रकोप जारी है। कभी भी बादल छाये हुए हैं। बारिश और बर्फबारी के आसार अभी बने हुए हैं। हालांकि धुंध और कोहरे का संकट कम हुआ है। जिसके चलते शनिवार को आठ दिन बाद श्रीनगर से हवाई सेवा शुरू हो सकी। जहां तक जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग की बात है तो वह लगातार दूसरे दिन भी बंद रहा। यही नहीं श्रीनगर-लेह को जोड़ने वाले जोजिला पास और पुंछ से श्रीनगर से जोड़ने वाला एतिहासिक मुगल रोड मार्ग पर बर्फ पड़ी होने के कारण वाहनों की आवाजाही बंद है।

मौसम विज्ञान केंद्र श्रीनगर से मिली जानकारी अनुसार अभी मौसम इसी तरह बना रहेगा। आज शनिवार को भी हल्की बारिश और बर्फबारी की संभावना बनी हुई है। श्रीनगर प्रशासन ने भारी हिमपात और ठंड बढ़ने के कारण आज से कश्मीर यूनिवर्सिटी में शुरू होने वाली सभी परीक्षाओं काे अगले आदेश तक स्थगित करने का आदेश जारी कर दिया है।

यहीं नहीं डिवीजनल कमिश्नर श्रीनगर बसीर अहमद खान ने बर्फबारी के बीच शहर का दौरा कर सड़कों से बर्फ हटाने के जारी काम का निरीक्षण किया। उनके साथ डिप्टी कमिश्नर श्रीनगर डॉ शाहिद इकबाल चौधरी, एडिशनल कमिश्नर कश्मीर बिलाल अहमद भट्ट सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे। अधिकारियों ने पीएचई, पीडीडी सहित अन्य विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि बर्फबारी के दौरान आम जनता को किसी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने बिजली-पानी की सप्लाई को नियमित बनाने के भी निर्देश दिए। यही उन्होंने अस्पतालों का दौरा कर वहां स्वास्थ्य सुविधाओं का भी जायजा लिया।

वहीं मौसम विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार पिछले दो दिनों के दौरान कटड़ा में सबसे ज्यादा 143.3 एमएम बारिश दर्ज की गई। बनिहाल में 130.6 एमएम, बटोत में 125.4 एमएम, जम्मू में 109.2 एमएम, भद्रवाह में 101.0 एमएम बारिश दर्ज की गई। कश्मीर संभाग के पहलगाम क्षेत्र में सबसे ज्यादा 133.7 एमएम, काजीगुंड में 123.4 एमएम, श्रीनगर में 33.5 एमएम, कुपवाड़ा में 23.0 एमएम, कुकरनाग में 62.9 एमएम, गुलमर्ग में 35.9 एमएम बारिश दर्ज की गई। यही नहीं लेह का न्यूनतम तापमान -10.4 डिग्री सेल्सियस चल रहा है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस