जम्मू, जेएनएन : स्टेट जांच एजेंसी ने टेरर फंडिंग मामले में जम्मू व कश्मीर के कई जिलों में एक साथ छापेमारी की है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये छापे कश्मीर संभाग में बांडीपोरा, कुपवाड़ा, अनंतनाग और श्रीनगर में चल रहे हैं जबकि एसआइए की एक टीम जम्मू संभाग के जिला किश्तवाड़ में भी पहुंची है, जहां वह आतंकवादियों को आर्थिक मदद करने वालों से राष्ट्रविरोधी तत्वों के घरों व कार्यालयों में जांच कर रहे हैं।

पुलिस ने बताया कि एसआइए की विभिन्न टीमें स्थानीय पुलिस व सीआरपीएफ के जवानों के साथ बांडीपोरा, कुपवाड़ा, अनंतनाग और श्रीनगर में पहुंची और कुछ संदिग्ध लोगों के घरों व कार्यालयों में छापे मार टेरर फंडिंग से संबंधित दस्तावेजों की तलाश शुरू कर दी। पंद्रेठन श्रीनगर में आरूज निसार शेख पुत्री निसार शेख, खेरीबल अनंतनाग में मयस्सर अहमद और कमाड अनंनताग में फारूक अहमद के मकान की तलाशी ली गई है।

उत्तरी कश्मीर के कलूसा बांडीपोर में उबैद अहमद और जलूरा सोपोर में राहत फारुक के अलावा नसीमाबाद बीके पोरा में एडवोकेट अदनान बशीर के घर की तलाशी ली गई है। शोपियां के हेफखुरी में मुश्ताक अहमद ठोकर और जेनोरा शोपियां में डीडीसी सदस्या यासमीना जान के घर की भी तलाशी लिए जाने की सूचना है।

एसआइए के एक अधिकारी ने बताया कि जांच की प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही इस संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाएगी। एसआइए सूत्रों ने बताया कि जिन लोगों के घरों व कार्यालयों में छापेमारी की गई है, उनमें से कई जमात-ए-इस्लामी से जुड़े हुए हैं। यह भी पता चला है कि इन छापों के दौरान भी कई दस्तावेज हाथ लगे हैं।आपको जानकारी हो कि कश्मीर में टेरर फंडिंग मामले की जांच कर रही एसआइए ने गत दिनों में भी घाटी में एक दर्जन से अधिक जगहों पर छापेमारी की थी। इस छापेमारी के दौरान कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी मिले थे। उन्हीं दस्तावेजों की जांच के आधार पर एसआइए छापेमारी कर रही है। आगे भी इस तरह की जांच जारी रहने की बात कही जा रही है।

Edited By: Rahul Sharma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट