श्रीनगर, जेएनएन : सुरक्षाबलों की सतर्कता ने एक बार फिर आतंकी साजिश को नाकाम बना दिया। जिला रामबन में एक मिनी बस से इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आइईडी) बरामद करने के बाद पुलिस व सेना ने आज शनिवार तड़के शोपियां के इमामसाहिब इलाके से बरामद कर उसे सुरक्षित ढंग से निष्क्रय कर एक बहुत बड़े हादसे को समय रहते टाल दिया। आतंकवादियों ने ये आइईडी एक कुकर में लगा रखी थी। शोपियां पुलिस और सेना की 44 राष्ट्रीय राइफल के जवानों ने समय रहते इस आइईडी का पता लगाया और बम निष्क्रिय दस्ते की मदद से इसे निष्क्रिय बना दिया।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार यह आइईडी शोपियां इमामसाहिब इलाके में हाईवे पर लगाई गई थी। कुकर में लगाई गई ये आइईडी सड़क किनारे रखी गई पाइपों के बीच रखी गई थी ताकि सुबह सेना की कानवाई गुजरने पर उसे निशाना बनाया जा सके। पुलिस को समय रहते आइईडी लगाए जाने की सूचना मिल गई। सूचना मिलते ही शोपियां पुलिस के जवान सेना की 44 आरआर बटालियन व सीआरपीएफ के जवानों के संयुक्त दल के साथ तड़के इमामसाहिब इलाके में पहुंच गए। रात के अंधेरे में जवानों ने टार्च की मदद से आइईडी का पता लगाने के लिए तलाशी अभियान शुरू कर दिया।

इसी बीच कुछ जवानों ने सड़क किनारे पड़ी ड्रेनएज की पाइपों को देखा। उन्होंने जब वहां जांच की तो पाइपों के बीचों-बीच एक कुकर रखा देखा। कुकर को देखते ही उन्हें यह स्पष्ट हो गया कि आतंकवादियों ने आइईडी इसी कुकर में लगाई है।

जवानों ने तुरंत हाईवे पर वाहनों की आवाजाही को रोक दिया और बम निष्क्रिय दस्ते को सूचित किया। मौके पर पहुंची बम निष्क्रिय दस्ते ने बड़े ही सुरक्षित ढंग से आइईडी को बाहर निकाला और फिर एक सुरक्षित जगह पर ले जाकर उसे निष्क्रिय बना दिया।

आपको बता दें कि गत शुक्रवार दोपहर बाद जिला रामबन में नाशरी नाका के पास एक मिनी बस को रोके जाने और उसकी तलाशी लेने के बाद उसमें एक इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आइईडी) मिला था। पुलिस, सीआरपीएफ और सेना के बम निरोधक दस्ते ने मौके पर पहुंचकर आईईडी को निष्क्रिय कर दिया। मिनी बस में रखी गई इस आइईडी के बारे में भी पुलिस को पहले से सूचना मिल गई थी, जिसके बाद ही नाशरी से पहले विशेष नाका स्थापित किया गया था।

पुलिस ने बताया कि चेकिंग के दौरान जेके06-0858 नंबर वाली एक मिनी बस को जब रोककर उसकी तलाशी ली गई तो गाड़ी से एक संदिग्ध बैग बरामद किया गया जिसमें आइईडी रखी गई थी। आइईडी की इन घटनाओं के बाद पुलिस ने मिनी बस, यात्री वाहन चालकों, ट्रक चालकों को सतर्क रहने और हमेशा अपने वाहनों जांच करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि आतंकवादी हमले के लिए स्टीकी बम का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

Edited By: Rahul Sharma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट