जम्मू, पीटीआई। कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक और पुलवामा हमले पर दिए बयान ने राजनीतिक गलियारे में तहलका मचा दिया है। दिग्विजय के बयान ने कांग्रेस की मुसीबतें बढ़ा दी है। जहां एक ओर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और मौजूदा अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने दिग्विजय के इस बयान से किनारा कर लिया है, तो वहीं बीजेपी लगातार कांग्रेस से मांफी की मांग कर रही है। इसी बीच मंगलवार को सर्जिकल स्ट्राइक और पुलवामा आतंकी हमले पर दिग्विजय सिंह की टिप्पणी के खिलाफ शिवसेना डोगरा फ्रंट ने जम्मू-कश्मीर में प्रदर्शन किया।

मंगलवार को एसएसडीएफ के अध्यक्ष अशोक गुप्ता के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शहर के रानी पार्क इलाके में एकत्र हुए और सिंह तथा कांग्रेस के खिलाफ नारेबाजी की। गौर करने वाली बात ये कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी इन दिनों अपनी भारत जोड़ो यात्रा को लेकर जम्मू-कश्मीर में ही हैं।

यह भी पढ़ें: Jammu News: अभिनेत्री - राजनीतिज्ञ उर्मिला मातोंडकर हुई राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल

माफी और दिग्विजय की बर्खास्तगी की मांग

मंगलवार को शिवसेना डोगरा फ्रंट ने कांग्रेस और दिग्विजय सिंह के खिलाफ नारेबाजी की। भारतीय सेना और सर्जिकल स्ट्राइक पर उठाए दिग्विजय के सवाल को लेकर शिवसेना डोगरा फ्रंट में रोष है। अशोक गुप्ता की अगुवाई में प्रदर्शन के दौरान मांग की गई कि दिग्विजय सिंह माफी मांगे, इसके साथ ही कांग्रेस को उनकी शर्मनाक टिप्पणी के लिए पार्टी से बर्खास्त करना चाहिए। अशोक गुप्ता ने दिग्विजय सिंह से माफी की मांग की है, साथ ही उन्होंने कांग्रेस से दिग्विजय को पार्टी से निकालने की मांग की।

'दिग्विजय ने किया सेना का अपमान'

मंगलवार को एसएसडीएफ के अध्यक्ष अशोक गुप्ता ने दिग्विजय सिंह पर बरसते हुए कहा कि उन्होंने सशस्त्र बलों और शहीदों का अपमान किया है। शिवसेना डोगरा फ्रंट के नेता ने कहा, "दिग्विजय सिंह को भारत विरोधी और सशस्त्र बल विरोधी बयान देने की आदत है... राहुल गांधी को उन्हें बाहर का रास्ता दिखाना चाहिए।"

यह भी पढ़ें:  Baramulla News: पाक के नापाक मंसूबे फिर नाकाम, 5 युवाओं को आतंकी संगठन में शामिल होने से सेना ने बचाया

दिग्विजय सिंह ने उठाए थे सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल

बता दें कि, कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने सोमवार को सर्जिकल स्ट्राइक और पुलवामा हमले पर सवाल उठाते हुए सरकार पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया था। दिग्विजय ने कहा था कि सरकार ने कई पाकिस्तानी आतंकियों को मार गिराने का दावा किया था, लेकिन सरकार ने कोई सबूत पेश नहीं किए थे।

दिग्विजय सिंह के इस बयान पर बीजेपी हमलावर है। बीजेपी ने कांग्रेस को देशद्रोहियों की पार्टी तक घोषित कर दिया था। इी बीच मंगलवार को शिवसेना डोगरा फ्रंट ने दिग्विजय सिंह के बर्खास्तगी की मांग की है।

Edited By: Swati Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट