जम्मू, जागरण संवाददाता: पंद्रह अगस्त पर इस बार आतंकी किसी बड़ी साजिश देने की फिराक में हैं। बार बार शहर के ऊपर मंडरा रहे ड्रोन व आइईडी बरामद होने के बाद पुलिस पहले से ज्यादा सतर्क हो गई है और यही कारण है कि पुलिस ने अब शहर में रह रहे किराएदारों पर नजर रखना शुरू कर दी है।

जम्मू शहर में पुलिस ने पहले ही उन मकान मालिकों को निर्देश जारी किए हैं जिन्होंने अपने घरों में किराएदारों को रखा है। पुलिस ने उन मकान मालिकों से किराएदारों की वेरिफिकेशन करवाने को कहा है ताकि किराएदार के रूप में कोई संदिग्ध न शहर में ठहरा हो। इसी वर्ष पुलिस ने जम्मू शहर में किराएदार बनकर रह रहे कई आतंकियों को भी दबोचा है जिनमें टीइआरएफ का कमांडर हिदायतुल्लाह व आइईडी के साथ भठिंडी में पकड़ा गया आतंकी नदीम भी शामिल है।

ये दोनों जम्मू शहर में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे लेकिन खुफिया सूचना के आधार पर दोनों को समय रहते पुलिस ने दबोच लिया था। खुफिया एजेंसियों को सूचना मिली है कि पांच अगस्त और पंद्रह अगस्त के बीच आतंकी जम्मू में किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं। पांच अगस्त, 2019 को जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया गया था जिससे पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और यही कारण है कि इसी दिन भी आतंकी किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं।

वहीं पंद्रह अगस्त को स्वतंत्रता दिवस समारोह में भी आतंकी खलल डाल सकते हैं और वे जम्मू में किराएदार बनकर रह वारदात को अंजाम दे सकते हैं। वहीं पुलिस ने होटलों में भी देर रात को जाकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस वहां ठहरने वाले लोगों का ब्यौरा भी प्रबंधकों से रोजाना जुटा रही है और उन्हें निर्देश दिए गए हैं कि उनके होटलों में ठहरने वाले लोगों से मिलने वाले मेहमानों की भी जानकारी रखें।

इसके अलावा पुलिस ने होटलों से सीसीटीवी कैमरों को दुरुस्त रखने और फुटेज की समय समय पर जांच करने के निर्देश भी दिए हैं ताकि कोई संदिग्ध गतिविधि देखे जाने पर पुलिस से संपर्क किया जा सके। वहीं एसएसपी जम्मू चंदन कोहली का कहना है कि पुलिस हमेशा की तरह सतर्क है। सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। लोग भी पुलिस का सुरक्षा बनाए रखने में सहयोग करें। 

Edited By: Rahul Sharma