जागरण संवाददाता, जम्मू : प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री रमन भल्ला ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार लोगों को सुरक्षा मुहैया करवाने में विफल साबित हो रही हैं। आज सीमा पर लगातार सीज फायर का उल्लंघन हो रहा है। आतंकी हमारे सैन्य शिविरों पर हमला कर रहे हैं। यह सब सरकार की गलत नीतियों के कारण हो रहा है।

भल्ला ने कहा कि एक तरफ विधानसभा के स्पीकर सदन में कहते हैं कि सुंजवां हमले के पीछे जम्मू में बसने वाले रोहिंग्याओं का हाथ है और उसके बाद दो बार माफी भी मागते हैं। उन्होंने कहा कि अगर सरकार के पास सारी जानकारी है तो सरकार जाच करवाए और जो आरोपियों को सलाखों के पीछे डाले। वह गंग्याल में लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सबसे पहले देश है और देश की सुरक्षा प्राथमिकता है। अगर कोई भी देश-विरोधी गतिविधियों में शामिल पाया जाता है तो उसको कड़ी सजा दी जाए। सुंजवा हमले में जिस जैश-ए-मुहम्मद के सरगना अजहर मसूद का हाथ सामने आ रहा है उस अजहर मसूद को तब की एनडीए सरकार कंधार तक छोड़ कर आई थी। तब अगर एनडीए सरकार ने सख्ती दिखाई होती तो आज सुंजवां में हमें अपने जवान नहीं खोने पड़ते। पीडीपी और भाजपा रियासत के लोगों की भावनाओं से खेल रही है। भाजपा वाले जम्मू की आवाम के सामने कुछ ओर बयान देते हैं। पीडीपी कश्मीर की जनता के सामने कुछ और भाषा बोलती है। उन्होंने कहा कि सदन मे पहली बार भाजपा के राज में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे। अपने आप को देशभक्त कहने वाले भाजपा के विधायक और मंत्री चुपचाप तमाशा देखते रहे।

भल्ला ने कहा कि भाजपा हर बार रोंहिग्याओं का मुद्दा उछालती है। अब केंद्र में भी भाजपा की सरकार है और राज्य में भी। फिर क्यों नही भाजपा इन लोगों को जम्मू से बाहर करती। भाजपा की देशभक्ति बनावटी है क्योंकि इन्हीं की सरकार में पत्थरबाजों को छोड़ा जा रहा है। सेना के जवानों पर मामले दर्ज हो रहे हैं। भाजपा सत्ता के लालच में अपने सभी वादों को तिलाजलि दे चुकी हैं। इस मौके पर गंग्याल के पूर्व कॉरपोरेटर सतीश शर्मा, कृष्ण शर्मा, पूर्ण वर्मा, बिट्टू कुमार, सन्नी शर्मा,ओम प्रकाश शर्मा व अन्य मौजूद थे।

इस बीच, महाशिवरात्रि के पावन मौके पर गंग्याल के प्रचीण मंदिर में एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। पूर्व मंत्री व काग्रेस के उपाध्यक्ष रमन भल्ला भी पहुंचे।

By Jagran