जम्मू, दिनेश महाजन। कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए यहां सरकारी स्तर पर कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जा रही। वहीं, कई ऐसे धार्मिक एवं सामाजिक संगठन भी सामने आ रहे है जो प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिला कर जरूरत की इस घड़ी में अहम भूमिका निभा रहे है।

ऐसा ही एक धार्मिक संगठन राधा स्वामी सत्संग, ब्यास (आरएसएसबी) प्रशासन की मदद के लिए आगे आया है। आरएसएसबी ने केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में अपने सभी सत्संग घरों को क्वारंटाइन सेंटर में तबदील कर दिया है। हजारों की संख्या में लोगों को इन सत्संग घरों में ना सिर्फ शरण दी जा रही है बल्कि उनके खाने पीने का भी पूरा ख्याल रखा जा रहा है। आरएसएसबी के सबसे बड़े सत्संग भवन (सांबा, नजवाल) में 1300 के करीब लोगों को प्रशासन ने ठहराया हुआ है। चौदह दिनों तक वहां लोगों को एकांत में रख कर उनके कोरोना वायरस से युक्त होने के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। सत्संग भवन से ना केवल वहां क्वारंटाइन में रह रहे लोगों को भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है, बल्कि बेसहारा और जरूरतमंद लोगों के लिए भी सत्संग घरों में से भोजन बना कर उन्हें पैकेट बांटे जा रहे है। कठुआ, सांबा और जिला जम्मू में सत्संग घर के सेवादार वहां हर रहे लोगों की सेवा में निस्वार्थ भाव से सेवा कर रहे है।

प्रशासन को उपलब्ध करवाई जा रही हर संभव सहायता: आरएसएसबी के जम्मू सचिव डाक्टर एससी शर्मा ने बताया कि 24 मार्च को जम्मू कश्मीर प्रशासन ने ढेरा प्रमुख बाबा गुरिंदर सिंह ढिल्लो से मदद मांगी थी। बाबा जी के निर्देश पर जम्मू के सभी सत्संग घरों को लोगों की सेवा के लिए खोल दिया गया है। मौजूदा समय में सांबा के नजवाल सत्संग घर में 1300 लोगों के लिए एक साथ खाना बनाया जा रहा है। प्रशासन को लोगों को रखने के लिए शैड, शौचालय, भाेजनालय सौंप दिया गया है। वहीं, ढेरे के जम्मू संयोजक वेद राज अंगुराणा ने बताया कि जिला सांबा के अलावा जिला कठुआ में लखनपुर सत्संग घर में दो सौ लोगों काे रखा गया है। कठुआ शहर के सत्संग घर में लोगों को ठहराने के साथ सात सौ लाेगों के खाने की व्यवस्था भी की जा रही है। वहीं से विवि कैंपस, इंजीनियरिंग कालेज और केवी स्कूल में रखे लोगों काे भोजन दिया जा रहा है। इसके अलावा छन्न खत्रिया के सत्संग घर में भी दो सौ लोगों को ठहराया गया है। वहां उनके खाने पीने समेत अन्य सभी जरूरतों का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। जम्मू केे बनतालाब केरन सत्संग घर में 450 लोगों को ठहराया गया है। जम्मू के अन्य सभी सत्संग घरों को भी जरूरत के समय तैयार कर दिया गया है।

उप राज्यपाल को दी एक करोड़ की आर्थिक सहायत: राधा स्वामी सत्संग ब्यास ने जम्मू कश्मीर प्रशासन को कोरोना से निपटने के लिए एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई है। ढेरा प्रमुख बाबा गुरबिंद्र सिंह ढिल्लो ने उप राज्यपाल जीसी मुर्मू को भेजे संदेश में कहाकि मानवता के सेवा के लिए वह जम्मू कश्मीर सरकार को एक करोड़ रुपये की धनराशि उनके खाते में भेज रहे है। उनकी संस्था ने प्रधानमंत्री राहत कोष में दो करोड़ रुपये, हरियाणा, पंजाब और हिमाचल प्रदेश की सरकार को एक एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस