जम्मू, जागरण संवाददाता : जम्मू यूनिवर्सिटी में पीएचडी दाखिले की प्रवेश परीक्षा का आयोजन शुक्रवार को होगा।जम्मू यूनिवर्सिटी के विभिन्न विभागों की ओर से इस संदर्भ में अधिसूचना जारी कर दी गई और प्रवेश परीक्षा का आयोजन शुक्रवार 7 अक्टूबर को दोपहर बारह बजे होगा।

यह प्रवेश परीक्षा पहले 16 सितंबर को आयोजित हो रही थी लेकिन यूनिवर्सिटी में प्राध्यापकों की हड़ताल के चलते इस परीक्षा को स्थगित कर दिया। जम्मू यूनिवर्सिटी में जम्मू यूनिवर्सिटभ् टीचर्स एसोसिएशन की ओर से काम छोड़ो हड़ताल की जा रही थी। यह हड़ताल जम्मू यूनिवर्सिटी के एक प्रोफेसर चंद्र शेखर की आत्महत्या को लेकर शुरू हुई थी।प्रोफेसर चंद्र शेखर जम्मू यूनिवर्सिटी के साइकालोजी विभाग में प्रोफेसर थे, जिन पर उनके विभाग की ही कुछ छात्राओं ने शोषण के आरोप लगाया था।

प्राध्यापकों का कहना था कि प्रोफेसर चंद्र शेखर को सुने बिना ही उन पर कार्रवाई शुरू कर दी गई। उन्हें निलंबित कर दिया गया था जिसके बाद उन्होंने यूनिवर्सिटी में अपने विभाग के कमरे ही फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी।इस हड़ताल काे अब प्राध्यापकों ने समाप्त कर दिया है और प्राध्यापकों के काम पर लौटने के बाद सात अक्टूबर को पीएचडी दाखिला प्रवेश परीक्षा का आयोजन हो रहा है।

यूनिवर्सिटी की ओर से अधिसूचना जारी कर पीएचडी प्रवेश परीक्षा में बैठने वाले विद्यार्थियों को अपने एडमिट कार्ड डाउन लोड करने व अपने साथ पहचान पत्र लेकर परीक्षा केंद्र में आने के निर्देश दिए गए हैं। परीक्षा केंद्रों में सुबह ग्यारह बजे से विद्यार्थियों को प्रवेश मिलना शुरू हो जाएगा।

यूनिवर्सिटी की ओर से परीक्षा के आयोजन को लेकर पुख्ता प्रबंध कर लिए गए हैं। स्टाफ सदस्यों की नियुक्त कर दी गई है।इसी प्रवेश परीक्षा के मेरिट के आधार पर विद्यार्थियों काे दाखिला मिलेगा।विद्यार्थी भी परीक्षा के आयोजन को लेकर उत्साह में हैं। उन्हें भी जूटा की हड़ताल समाप्ति के बाद जल्द ही परीक्षा के आयोजन की उम्मीद थी। 

Edited By: Rahul Sharma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट