जम्मू, विवेक सिंह । कश्मीर घाटी में आतंकवाद व अलगाववाद पर कड़े प्रहरों से पाकिस्तान सहमा है। सीमा पर कुछ दिन से गोलाबारी कर पाक बौखलाहट निकाल रहा है। नियंत्रण रेखा पर पाक सेना ने जगह-जगह मोर्चे बनाने की तैयारी शुरू कर दी हैं। इसके अलावा आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए पूरा जोर लगाया जा रहा है। वहीं भारतीय सेना, वायु सेना और सुरक्षा बलों को हाईअलर्ट पर रहने का निर्देश जारी किए हैं।

सूत्रों के अनुसार इस समय पाकिस्तान अंतराष्ट्रीय सीमा पार मोर्चे खोदने के साथ सीमा की साफ-सफाई कर रहा है। पाक के डर की वजह कश्मीर पर लिए बड़ा फैसला, अंतरराष्ट्रीय सीमा व नियंत्रण रेखा पर सीमा सुरक्षा बल, सेना का ऊंचा मनोबल है। इस समय सेना, सीमा सुरक्षा बल पाकिस्तानी क्षेत्र में हो रही हर गतिविधि पर पैनी नजर रखे हुए हैं।

पाकिस्तान सेना कोई दुस्साहस करती है तो उसे कभी न भूलने वाला सबक दिया जाएगा

इस समय फील्ड कमांडर निरंतर दौरे के साथ भारतीय जवानों का मनोबल बढ़ाने के साथ दुश्मन को भी कड़ी चेतावनी दे रहे हैं। सेना की उत्तरी कमांडर के आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने भी ऐसे हालात में स्पष्ट किया है कि अगर पाकिस्तान सेना कोई दुस्साहस करती है तो उसे कभी न भूलने वाला सबक दिया जाएगा। भारतीय सेना नियंत्रण रेखा के इस पार या उस पार किसी भी प्रकार के हालात से निपटने के लिए इस समय तैयार है। दूसरी तरफ पीठ पीछे वार करने वाले पाकिस्तान की पूरी कोशिश है कि जम्मू कश्मीर में ऐसी वारदात करें जिससे विश्व में संदेश जाए। इस समय देश विरोधी तत्वों के मंसूबों को नाकाम बनाने के लिए कश्मीर में संचार व्यवस्था पर रोक लगाई गई है।

ऐसे में पुख्ता संकेत मिले हैं कि पाकिस्तान ने गुलाम कश्मीर के नीलम वैली के काली घाटी में आतंकवादियों की घुसपैठ करवाने के लिए संचार व्यवस्थता भी स्थापित की है। सेना, सीमा सुरक्षा बल हाई अलर्ट पर है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस