पुंछ/हीरानगर,  जेएनएन । गणतंत्र दिवस समारोह से पहले पकिस्तानी सेना नियंत्रण रेखा (एलओसी) से लेकर अंतरराष्ट्रीय सीमा (आइबी) पर गोलाबारी कर आतंकियों की घुसपैठ करवाने की फिराक में है। पाक सेना ने शुक्रवार शाम नियंत्रण रेखा पर युद्ध विराम का उल्लंघन करते हुए पुंछ जिला के गुलपुर सेक्टर के देगवार में गोलाबारी शुरू कर दी। बाद में मोर्टार दागने शुरू कर दिए। वहीं, कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाक रेंजरों ने वीरवार की रात चक चंगा व छन्नटांडा गांवों को निशाना बनाकर गोलाबारी की, जो शुक्रवार सुबह साढ़े चार बजे तक जारी रही।

पाक सेना ने पुंछ जिला के दिगवार में शाम करीब 6.20 बजे पहले भारतीय सेना की अग्रिम चौकियों पर छोटे हथियारों से गोलाबारी शुरू की। बाद में पाक सेना ने रिहायशी इलाकों में मोर्टार दागने शुरू कर दिए, जिससे नियंत्रण रेखा के पास कई चौकियों के नजदीक आग लग गई। इस पर काबू पा लिया गया है। भारतीय सेना के जवान नियंत्रण रेखा पर रोशनी के गोले दाग कर नजर रख रहे हैं। इससे पूर्व वीरवार मध्य रात को भी पाक सेना ने गुलपुर व करमाडा में भारी गोलाबारी की थी, जो शुक्रवार सुबह तक रुक-रुक कर जारी रही। गोलाबारी के कारण नियंत्रण रेखा से सटे कुछ क्षेत्रों में स्कूलों को बंद कर दिया गया। वहीं, कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में पाक रेंजरों ने पप्पू चक, जगवाल पोस्टों से मोर्टार और छोटे हथियारों से गोलाबारी की। एसएसपी कठुआ श्रीधर पाटिल के निर्देश पर पुलिस ने बख्तरबंद गाड़ी चकड़ा चौकी अंतर्गत गांवों में भेज दी है। ताकि जरूरत पड़ने पर लोगों को सुरक्षित अस्पताल तक पहुंचाया जा सके।

इसी बीच रामगढ के सीमांत इलाकों में सर्च आॅपरेशन चलाया गया। अक्सर गणतंत्र दिवस समारोह से पहले पकिस्तानी गडबडी फैलाने की साजिश रचता रहता है। एेसे में हर वर्ष की तरह इस बार भी सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकी साजिश को नाकाम करने के लिए हर तरह की तैयारी की है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस