जम्मू, जेएनएन। सुरक्षाबलों और पुलिस ने उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिला से आतंकियों की मदद करने वाले एक ओवरग्राउंड वर्कर को गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद हुआ है।

जानकारी के अनुसार, पुलिस और सुरक्षाबलों को सूचना मिली कि आतंकियों का मददगार ओवरग्राउंड वर्कर अब्दुल अहद लोन पुत्र अब्दुल गनी लोन निवासी गांव गरारयाल जिला कुपवाड़ा में छिपा हुआ है। इसके उपरांत टेरिटोरियल आर्मी की 160वीं बटालियन और एसओजी करालपोरा ने संयुक्त तलाशी अभियान छेड़ा और ओवरग्राउंड वर्कर को पकड़ने में सफलता हासिल की। ओवरग्राउंड वर्कर के कब्जे से 10 हथगोले, एके 47 के 182 कारतूस, 1,69,500 रुपये व अन्य सामान बरामद हुआ है। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरू कर दी है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि पकड़ा गया ओवरग्राउंड वर्कर आतंकवादी संगठन अल बदर के लिए काम कर रहा था। 

गौरतलब है कि गत महीने मध्य कश्मीर के जिला बड़गाम में पुलिस ने लश्कर-ए-तैयबा के दो ओवरग्राउंड वर्करों को गिरफ्तार किया था। पुलिस और सुरक्षाबलों को पुख्ता जानकारी दी कि ये दोनों ओवरग्राउंड वर्कर्र काफी लंबे समय से आतंकियों की मदद में जुटे हैं। जब इन दोनों ओवरग्राउंड वर्कर को पकड़ा गया था तब इनके कब्जे से लश्कर-ए-तैयबा आतंकवादी संगठन से संबंधित आपत्तिजनक दस्तावेज व पोस्टर भी बरामद हुए थे। इन दोनों ओवरग्राउंड वर्कर को लश्कर-ए-तैयबा आतंकवादी संगठन के नेटवर्क को मजबूत करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इसके अलावा वे स्थानीय युवाओं को आतंकवादी संगठन में शामिल होने के लिए भी उकसाते थे।