जम्मू, राज्य ब्यूरो : कोरोना संक्रमण के कारण बंद पड़ी चेस्ट डिजिजेस अस्पताल की ओपीडी सेवाएं मंगलवार से फिर से सामान्य रूप से बहाल हो जाएगी। इसका फैसला राजकीय मेडिकल काॅलेज जम्मू की प्रिंसिपल डाॅ. शशि सूदन की अध्यक्षता में आयोजित हुई बैठक में लिया गया। इसमें सीडी अस्पताल में ओपीडी सेवाएं शुरू करने पर विस्तार से चर्चा हुई। यह अस्पताल कोरोना के मामले आने के बाद से ही कोविड अस्पताल बनाया हुआ है। प्रिंसिपल ने इस समय आ रहे कोरोना के मामलों पर चर्चा करने के बाद कहा कि गैर कोविड मरीजों की देखभाल जरूरी है। इसी कारण अब सीडी अस्पताल की ओपीडी सेवाओं को चरणबद्ध तरीके से बहाल कर दिया जाएगा।

पहले चरण में इस अस्पताल में सिर्फ ओपीडी में मरीजों की जांच होंगी और डायग्नोस्टिक सेवाएं शुरू की जाएंगी। मरीजों को पहले की तरह जच्चा-बच्चा अस्पताल गांधीनगर में भर्ती किया जाएगा। बैठक में यह भी तय किया गया कि कोरोना संक्रमित मरीजों का सिटी स्कैन पहले की तरह सीडी अस्पताल में ही किया जाएगा। गैर संक्रमित मरीजों का सिटी स्कैन मेडिकल काॅलेज में होगा। अभी तक सीडी अस्पताल को सिर्फ कोरोना संक्रमित मरीजों के प्रबंधन के लिए ही इस्तेमाल किया जा रहा है। यह प्रबंध लगातार होने वाली समीक्षा पर आधारित होगा।

अगर कोरोना के मामले बढ़ते हैं तो फिर से पहले की तरह सीडी अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों का ही इलाज होगा। सीडी अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डाॅ. राजेश्वर शर्मा ने बताया कि मंगलवार से ओपीडी सेवाएं शुरू की जा रही है, जिन मरीजों को भर्ती कर इलाज करने की जरूरत होगी, उन्हें जच्चा-बच्चा अस्पताल गांधीनगर में भर्ती किया जाएगा। बैठक में जीएमसी और सहायक अस्पतालों के प्रशासनिक अधिकारी नागेंद्र जम्वाल, मेडिकल सुपरिटेंडेंट डाॅ. राजेश्वर शर्मा, एचओडी डाॅ. राहुल गुप्ता भी मौजूद थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप