जम्मू, जागरण संवाददाता। आप सब जानते हैं कि पिछले कुछ सालों में आनलाइन ठगी के मामलों में बढ़े हैं। पुलिस आए दिन लोगों को इस बारे में जागरूक भी करती रहती है। एटीएम नंबर किसी को न बताएं, आनलॉइन लाॅटरी निकलने के बहकावे में न आएं, डेबिट कार्ड, आधार कार्ड का नंबर शेयर न करें, ऐसी कई हिदायत पुलिस विभाग समय-समय पर देता भी रहता है। मजेदार बात यह है कि जनता को आनलाइन ठगी के प्रति जागरूक करने वाला जम्मू पुलिस विभाग का जवान स्वयं इन ठगों के झांसे में आ गया। यही नहीं ठगों ने इस पुलिस जवान को करीब चालीस हजार रुपये का चूना भी लगा डाला। ठगी का शिकार हुए जवान ने पक्का डंगा पुलिस थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया है।

जम्मू-सांबा-कठुआ रेंज के डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल आफ पुलिस के कार्यालय में तैनात सिलेक्शन ग्रेड कांस्टेबल संजय शर्मा निवासी कैंप गोल गुजराल के माेबाइल फोन पर अनजान नंबर से फोन आया। फोन करने वाले व्यक्ति ने खुद को एक कंपनी का कर्मी बताते हुए कांस्टेबल को लॉटरी में कार जितने की खबर देते हुए इनाम के लिए मुबारकबाद दी। कांस्टेबल फोन करने वालों की बातों में आ गया। फोन करने वाले व्यक्ति ने पुलिस कांस्टेबल को कहा कि कार लेने के लिए उसे टैक्स के रुपये में कंपनी के बैंक खाते में रुपये जमा करवाने होंगे।

कांस्टेबल उसकी बातों में आ गया। उसने रुपये व्यक्ति के बैंक खाते में जमा करवा दिए। कार देने की बजाए कंपनी के सदस्यों ने फिर कांस्टेबल से संपर्क किया और उसे कुछ और नकदी जमा करवाने को कहा। कार के लालच में पुलिस कांस्टेबल एक और किश्त ठगों के बैंक खाते में जमा करवा दी। कंपनी के सदस्य ने फिर फोन कर कांस्टेबल से रुपयों की मांग की। अब इस बार कांस्टेबल को समझ में आ गया कि वह ठगों के शिकार में फंस चुका है और अपने खून पसीने के करीब चालीस हजार रुपये गवा चुका है। पुलिस कांस्टेबल इसके बाद सीधे पक्का डंगा पुलिस थाने में पहुंच गया और बैंक खाते की डिटेल के साथ अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज करवाया।  

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस