श्रीनगर, राज्य ब्यूरो जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला की नई तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। नई तस्वीर में उमर अब्दुल्ला की दाढ़ी बढ़ी हुई नजर आ रही है। आमतौर पर क्लीन शेव रहने वाले उमर की पहले भी एक तस्वीर सामने आई थी जिसमें वह बढ़ी हुई दाढ़ी के साथ दिखे थे।

बता दें कि उमर अब्दुल्ला अभी श्रीनगर के हरि निवास में पुलिस की हिरासत में रखे गए हैं। पूर्व में उमर को गुप्कार रोड स्थित उनके आवास पर शिफ्ट करने का फैसला किया गया था, लेकिन बाद में प्रशासन ने इस फैसले को वापस ले लिया। उमर को पिछले साल 5 अगस्त से ही पुलिस हिरासत में रखा गया है। उमर के अलावा उनके पिता फारुक अब्दुल्ला को भी पब्लिक सेफ्टी ऐक्ट के तहत घर में ही नजरबंद रखा गया है। उमर अब्दुल्ला की इस फोटो को जमकर शेयर किया जा रहा है। तस्वीर देख उमर अब्दुल्ला को पहचान पाना बहुत मुश्किल है। लोग लिख रहे हैं कि छह महीने में उमर अबदुल्ला क्या से क्या हो गए हैं।

डिजायनर कपड़ों के शौकीन पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने पांच अगस्त से पहले कभी दाड़ी नहीं रखी थी। वह हमेशा क्लीनशेव रहते थे। अलबत्ता, हिरासत में उन्होंने अपनी दाड़ी बढ़ाना शुरु कर दी। उनकी यह तस्वीर भी वायरल हुई थी। अलबत्ता, उनकी जो तस्वीर अब वायरल हुई है, उसमें उन्हें आसानी से नहीं पहचाना जा सकता। वह किसी बुजुर्ग की भांति नजर आते हैं। सिर पर ऊनी टोपी पहने उमर अब्दुल्ला ने दाड़ी को पूरी तरह बढ़ा लिया है। सोशल मीडिया पर लगातार वायरल हो रही यह तस्वीर गत दिनों श्रीनगर में हुए हिमपात के दौरान ली गई बताायी जा रही है। यह तस्वीर उनसे मिलने आए उनके एक निकट संबंधी ने ही ली है। यहां यह बताना असंगत नहीं होगा कि उमर अब्दुल्ला को उनके परिजनों व कुछ खास करीबियों से मुलाकात की पूरी इजाजत है। उनसे उनकी बुआ और बहन अकसर मिलती हैं।

उमर अब्दुल्ला की लगातार वायरल हो रही तस्वीर पर कश्मीर के वरिष्ठ पत्रकार आसिफ कुरैशी ने कहा कि उमर अब्दुल्ला अब नौजवान नहीं रहे हैं। चेहरे की झुर्रियां ,बड़ी हुई दाड़ी और उस पर उनकी मुस्कुराहट बताती कि वह बदले हालात में जीना सीख चुके हैं। कल तक राजनीतिक रुप से नौसिखिया कहे जाने वाले उमर अब परिपक्व नजर आते हैं। शायद यही कारण है कि उनकी तरफ से अभी तक कोई भी बयान नहीं आया है।

जम्मू-कश्मीर में सशर्त इंटरनेट सेवा बहाल

बता दें कि गणतंत्र दिवस से ठीक पहले आज राज्य प्रशासन ने जम्मू-कश्मीर के सभी 20 जिलों में पोस्टपेड और प्रीपेड पर 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवा शुरू करने की घोषणा की। ब्राडबैंड सेवा भी हर शहर और कस्बे में उपलब्ध होगी, लेकिन सशर्त और पाबंदियों के साथ। कोई भी सोशल मीडिया एप्लीकेशन को नहीं चला सकेगा। फिलहाल, यह सुविधा 25 से 31 जनवरी 2020 तक रहेगी। उसके बाद समीक्षा के आधार पर इसे विस्तार देने पर फैसला लिया जा सकता है।

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस