संवाद सहयोगी, सांबा : कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लोग लॉकडाउन का जिले में पूरी तरह पालन कर रहे हैं। इस बीच दूसरे राज्यों में काम करने वाले काफी संख्या में प्रदेश के लोग लौट रहे हैं। उन्हें जिले के अलग-अलग क्वारंटाइन सेंटरों में रखा जा रहा है। दूसरे राज्यों आने वाले लोगों की संख्या ज्यादा होने के कारण रविवार को घगवाल ब्लाक में नए क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए। यहां दूसरे राज्यों से आने वालों को रखा गया है। सिर्फ घगवाल ब्लाक में ही रविवार को 540 लोग को क्वारंटाइन किया गया।

वहीं विजयपुर के ठंडी खुई में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटरों में रविवार को 300 के करीब और लोग आए। वहां पर अब तक कुल 750 लोगों को क्वारंटाइन किया गया। सांबा जिले में में कुल 2224 के करीब लोगों का क्वारंटाइन में रखा गया है। इन लोगों को 14 दिन तक के लिए रखा गया है। उसके बाद उन्हें अपने गतंव्य तक जाने दिया जाएगा। वहीं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेन्द्र सम्याल ने कहा कि अभी तक स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है।

------------------- सभी को अपने जिले में क्वारंटाइन करना होता बेहतर दूसरे राज्यों से आने वाले यात्रियों को कठुआ और सांबा जिला में क्वारंटाइन करने से बेहतर था कि उन्हें अपने-अपने जिले में बसों से पहुंचा दिया जाता। वहां उन्हें क्वारंटाइन किया जाता। सांबा में क्वारंटाइन किए गए 2224 लोग प्रदेश के अलग-अलग जिले के हैं। स्थानीय लोगों ने कहा कि इन लोगों के पास इतने कपड़े नहीं हैं कि हर दिन वे साफ-सुथरे कपड़े पहनें। ऐसे में यहां पर वे कितने सुरक्षित हो सकते हैं। अच्छा रहता कि उन्हें अपने-अपने गृह जिले के क्वारंटाइन किया जाता।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस