जम्मू, राज्य ब्यूरो। गैर राजनीतिक संगठन इकजुट ने सरकार को जम्मू कश्मीर में जेहाद का समर्थन करने वालों को ध्वस्त करने के लिए आंतरिक सर्जिकल स्ट्राइक करने की मांग की। इसके लिए उन्होंने तत्काल धारा 370 और अनुच्छेद 35-ए को तत्काल हटाया जाए। इनके सहारे ही पाकिस्तान समर्थक इस राज्य को इस्लामिक राज्य बनाने में लगे हुए हैं।

संगठन के चेयरमैन एडवोकेट अंकुर शर्मा ने कहा कि सरकार को देश को सांप्रदायिक आधार पर विभाजित करने की साजिश रचने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी होगी। यहां एक पत्रकार वार्ता में अंकुर शर्मा ने कहा कि कश्मीर में रहने वाले कुछ लोग ही जेहाद फैला रहे हैं। उन्होंने नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी को भी अाड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि नेशनल कांफ्रेंस के उपप्रधान उमर अब्दुल्ला का कहना है कि जम्मू कश्मीर मुसलमानों की रक्षा करने वाला अकेला राज्य है।

इकजुट संगठन यह साफ करना चाहता है कि जम्मू कश्मीर किसी एक धर्म का नहीं है। यह हिंदुओं, बौद्ध, सिख, जैन, सभी धमों का है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर को पहले नेशनल कांफ्रेस ने अपने सहयोगी दलों की मदद से इस्लामिक बनाने का प्रयास किया। गैर मुसलमानों को अल्पसंख्यकों के अधिकार नहीं दिए। धारा 370 और अनुच्छेद 35-ए को हटाने के लिए कुछ भी नहीं किया। उन्होंने इस अनुच्छेद को हटाने, जेहाद के आतंरिक ढांचे को ध्वस्त करने के लिए कहा।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस