जम्मू, राज्य ब्यूरो । स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव अटल ढुल्लु ने पैरामेडिकल काउंसिल को निर्देश दिए हैं कि सभी पैरामेडिकल कालेजों में अगले साल मार्च महीने से पहले विभिन्न कोसों में प्रवेश प्रक्रिया पूरी हो। उन्होंने प्रवेश बोर्ड आफ प्रोफेशनल एंट्रेस एग्जामिनेशन के माध्यम से ही करने को कहा। इसके लिए उन्होंने काउंसिल के अधिकारियों को बोपी के अधिकारियों के साथ संपर्क बनाए रखने को कहा।

बैठक में पालीटेक्निक कालेज के मुद्दे पर भी चर्चा हुई। इसमें कहा गया कि मेडिकल लैब टेक्नालोजी के कोर्स को मान्यता दिलवाने के लिए प्रयास होंगे। बैठक में कहा गया कि जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन के साथ ही जेएंडके नर्सिंग कांउसिल भी खत्म हो गई हे। अब इंडियन नर्सिंग काउंसिल एक्ट को लागू करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।

जीएमसी जम्मू की प्रिंसिपल डा. सुनंदा रैना ने कहा कि कालेज में बीएससी पैरामेडिकल कोर्स शुरू करने की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने गंग्याल में बनी बीएससी नर्सिंग कालेज की इमारत के बारे में भी जानकारी दी। वहीं यह भी कहा गया कि नियमों के तहत अब डा. सुनंदा रैना पैरामेडिकल काउंसिल के प्रधान और जीएमसी श्रीनगर के प्रिंसिपल डा. परवेज शाह उपप्रधान का कार्यभार संभालेंगे।

बैठक में स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग के अतिरिक्त सचिव जीए मीर, डायरेक्टर न्यू मेडिकल कालेज डा. यशपाल शर्मा, बायो कैमिस्ट्री विभाग के एचओडी और कंट्रोलर डा. एएस भाटिया, प्रो. सन्नाउल्ला कुचे, रजिस्ट्रार डा. संदीप सिंह भी मौजूद थे।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस