जम्मू, एएनआई।  जम्मू-कश्मीर के उधमपुर के एक सरकारी हाई स्कूल में दो साल से 9वीं और 10वीं को पढ़ाने के लिए गणित के शिक्षक नहीं हैं। जिसके कारण वहां के छात्र गणित नहीं पढ़ पा रहे हैं, ऐसा छात्रों ने आरोप लगाया है। छात्रों ने एएनआई को बताया कि हम लोगों ने राज्यपाल से एक गणित के शिक्षक को लाने का आग्रह किया है।

ऊधमपुर रामनगर जोन में स्थित सरकारी हाई स्कूल लाड़ में शिक्षा विभाग की लापरवाही से नौवीं और दसवीं के विद्यार्थी गणित विषय नहीं पढ़ पा रहे हैं। इस समस्या से शिक्षा विभाग के अधिकारियों को कई बार अवगत कराया गया है। मगर समस्या आज भी बरकरार है। लाड़ के सरपंच मदन लाल व पंच विश्व ने बताया कि साल 2012-13 में लाड़ मिडिल स्कूल अपग्रेड होकर हाई स्कूल बना था। मगर इसके बाद से यहां पर स्टाफ नहीं है। स्कूल में हेडमास्टर सहित तकरीबन 10 पद खाली पड़े हैं।

स्कूल बनने के बाद यहां पर गणित का शिक्षक नहीं है। पिछले दो सालों से तो नौवीं और दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों ने गणित नहीं पढ़ा है। उन्होंने बताया कि स्कूल में तैनात गणित के शिक्षक की अटैचमेंट कभी इलेक्शन सेल में कर दी जाती है। तो कभी कहीं और। जिस वजह से पिछले सालों से विद्यार्थी गणित नहीं पढ़ पा रहे।

स्कूल के बाकी विषयो के शिक्षक बच्चों को थोड़ा बहुत गणित पढ़ा देते हैं। जिसका असर विद्यार्थी के परीक्षा परिणाम पर भी पड़ता है। उन्होंने कहा हालात यह कि विद्यार्थीयों ने गणित की किताबें ही स्कूल लेकर आना बंद कर दी है। उन्होंने कहा कि छह माह पहले जब अटैचमेंट रद की गई थी, उसके बाद शिक्षक सप्ताह में कभी एक दिन तो कभी दो दिन आता है। हर बार पूछने पर वह कोई न कोई बहाना बना देता है।

इस समस्या के बारे में जेडईओ रामनगर से शिकायत की। उन्होंने इस मामले में सीईओ ऊधमपुर के पास भेज दिया। जब सीईओ के पास गए तो उन्होंने डायरेक्टर के पास भेज दिया। डायरेक्टर से मिलने पर उन्होंने इस संबंध में निर्देश जारी करने का आश्वासन तो दिया, मगर अभी तक समस्या जस की तस है।

उन्होंने स्कूल में नौंवी व दसवीं कक्षा के विद्यार्थीयों ने राज्यपाल से इस समस्या में हस्तक्षेप कर उनकी समस्या हल करने की मांग की है। इस बारे में सीईओ ऊधमपुर दलजीत सिंह ने बताया कि संबंधित जेडईओ ने उनको बताया कि अटैचमेंट रद होने के बाद से इस साल पांच मार्च गणित के शिक्षक विक्रम गुप्ता हाई स्कूल लाड़ में वापस काम पर लौट गए हैं, जबकि दूसरे शिक्षक विजय गुप्ता तीन सितंबर से स्कूल में वापस लौट गए हैं। दोनों नियमित रूप से स्कूल नहीं जा रहे, इसकी जानकारी नहीं है। इसकी जांच करवाई जाएगी। यदि जांच में वह दोषी पाए गए तो उचित कार्रवाई की जाएगी। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप