जम्मू, जागरण संवाददाता : वर्षों इंतजार के बाद आखिरकार जम्मू के लोगों का इंतजार शुक्रवार को खत्म हो गया। रात आठ बजे जम्मू एयरपोर्ट से गो फर्स्‍ट के विमान जी8-196 ने 80 यात्रियों के साथ दिल्ली के लिए उड़ान भरी तो यह पल जम्मू के लिए ऐतिहासिक बन गया। इसी के साथ जम्मू एयरपोर्ट पर रात्रिकालीन उड़ान सेवा शुरू हो गई। इससे जम्मू ही नहीं, माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को भी राहत मिलेगी। रात को श्रद्धालु जम्मू पहुंचने के बाद रात को ही कटड़ा पहुंच सकेंगे। सुबह दर्शन कर वह चौबीस घंटों के भीतर दिल्ली भी वापस लौट सकेंगे। इसके अलावा जम्मू व दिल्ली के बीच आने-जाने वाले व्यापारियों को भी लाभ मिलेगा।

जम्मू एयरपोर्ट से रात्रिकालीन उड़ान को उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने श्रीनगर राजभवन से आनलाइन तरीके से इस सेवा का शुभारंभ किया। इससे पहले गो फर्स्‍ट का विमान दिल्ली से रात साढ़े सात बजे जम्मू एयरपोर्ट पर 71 यात्रियों को लेकर पहुंचा था। इनका जम्मू एयरपोर्ट पर एयरपोर्ट डायरेक्टर संजीव गर्ग ने स्वागत किया। रात आठ बजे विमान ने दिल्ली के लिए वापस उड़ान भरी। इस मौके पर उद्योग एवं वाणिज्य के प्रधान सचिव रंजन ठाकुर, डिवीजनल कमिश्नर जम्मू डा. राघव लंगर, आइजीपी जम्मू मुकेश सिंह, एयर कामाडोर एएस पठानिया, डिप्टी कमिश्नर जम्मू अंशुल गर्ग, जम्मू एयरपोर्ट में सीआइएसएफ के सीएएसओ गुरजीत सिंह, डिप्टी कमांडेंट महेश सिंह, विकास, ग्रुप कैप्टन संदीप सिंह, जम्मू एयरपोर्ट पर एंटी हाईजैकिंग एसपी सज्जाद अहमद, डीआइजी अतुल गोयल व एसएसपी जम्मू चंदन कोहली मौजूद रहे।

इंडिगो और स्पाइस जेट ने भी मांगी अनुमति

इंडिगो और स्पाइस जेट ने भी जम्मू एयरपोर्ट से रात को अपनी सेवाएं शुरू करने की अनुमति मांगी है। इनके आवेदनों पर जम्मू एयरपोर्ट फैसला लेगा। डायरेक्टर जम्मू एयरपोर्ट संजीव गर्ग ने बताया कि अगर सब कुछ सामान्य रहा तो रात को उड़ानों की संख्या बढ़ सकती हैं।

Edited By: Vikas Abrol