जम्मू, जागरण संवाददाता: कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए नटरंग नाट्य संस्था ने हालात दुरुस्त होने तक अपनी सभी ऑफलाइन गतिविधियां स्थगित करने का निर्णय लिया है। हालांकि कला और संस्कृति को बढ़ावा देने और रंगमंच के माध्यम से सकारात्मक सोच को आगे बढ़ाने के लिए ऑन लाइन गतिविधियां लगातार आयोजित होती रहेंगी।

नटरंग प्रवक्ता मोहम्मद यासीन ने बताया कि पिछले साल जब दुनिया भर में सांस्कृतिक गतिविधियां थम गई थी तो नटरंग ने ऑन कई कार्यक्रमों का आयोजन कर जम्मू के रंगमंच को दुनियां तक पहुंचाया था। दुनिया भर के निर्देशकों और वरिष्ठ कलाकारों का ऑनलाइन थियेटर टॉक शो आयोजित कर रंगकर्मियों को रंगमंच से जोड़े रखा था। इस थियेटर टॉक शो में दुनिया भर की 52 शख्सियतों ने रंगमंच पर अपना दृष्टिकोण स्पष्ट किया था।इस शोक के माध्यम से दुनिया भर के कलाप्रेमी जुडे़ थे।

जिन्होंने रंगमंच पर अपने विचार साझा किए। इसके अलावा नटरंग द्वारा मंचित नाटकों को ऑनलाइन चढ़ाकर जम्मू के रंगमंच को दुनिया तक पहुंचाने का काम किया था। इसके अलावा ऑनलाइन थियेटर फेस्टिवल का भी आयोजन किया गया था।इस वर्ष फिर से हालात ऐसे हो गए हैं कि रंगमंच कर पना संभव नहीं है और न ही दर्शकों को किसी शो के लिए आमंत्रित किया जा सकता है।

ऐसे में नटरंग फिर से अपनी ऑन लाइन गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करेगा। जल्द कला प्रेमियों को जम्मू-कश्मीर की कला से जोड़ता एक ऑनलाइन कार्यक्रम शुरू किया जाएगा।ऑन लाइन रंगमंच कार्यशाला का आयोजन करने की भी योजना है। खासकर छुट्टियां शुरू होते ही बच्चों के लिए कुछ सकारात्मक प्रयास शुरू हो जाएंगे।नटरंग का मकसद बच्चों को प्रतिभा को तराशना एवं उन्हें रंगमंच से जोड़ना है।

ज्ञातव्य है कि नटरंग की संडे थियेटर श्रृंखला नियमित आयोजित हो रही थी। वहीं कुछ नए नाटकों की रिहर्सल चल रही थी जिन का मंचन मई महीने में होना था। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप