जम्मू, अवधेश चौहान जम्मू से ट्रक में छिपकर श्रीनगर जा रहे आतंकवादियों ने जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर स्थित झज्झर कोटली में पुलिस नाके पर ट्रक की चेकिंग के दौरान पकड़े जाने की अशंका पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। भागते समय आतंकवादियों ने एक फारेस्ट गार्ड को पुलिस कर्मी समझ गोली मार दी जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया।

भागते समय आतंकवादी अपना बेग छोड़ गये जिसमें एक एके-47, तीन मैगजीन और कुछ अन्य सामान था। आतंकवादी साथ लगते जंगलों में भाग खड़े हो गये। सेना, सीआरपीएफ और पुलिस आतंकियों की तलाश के लिये व्यापक तलाशी अभियान चलाये हुये है। पुलिस ने ट्रक ड्राइवर और कंडक्टर को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है।

यह घटना सुबह 8.45 बजे के करीब की है जब झज्झर कोटली के साथ लगते रिहायशी इलाकों के बच्चे स्कूल जा रहे थे। इस घटना के बाद इलाके में स्थित डीपीएस सहित अन्य स्कूलों में छुट्टी कर दी गई है। ट्रक श्रीनगर के अनंतनाग का बताया जाता है और इसके मालिक की पहचान फैयाज अहमद शेख के रूप में हुई है।

 कैसे चला आतंकियों का पता

जम्मू से पच्चीस किलोमीटर दूर बन टोल प्लाजा पर ट्रक जेके03एफ-1476 तेजी से गुजरा। वहां टोल काटने वालों ने देखा कि ट्रक में दो से तीन संदिग्ध छुपे हुये हैं। उन्होंने उनकी गतिविधियों पर शक हुआ और उन्होंने बिना समय गवाएं इसकी सूचना टोल प्लाजा से नजदीक लगती पुलिस पोस्ट को सूचित किया।

पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और उन्होंने देखा कि जिस नंबर के ट्रक के बारे में कहा गया था, आगे ढाबे के पास खड़ा हुआ था। ट्रक का ड्राइवर और कंडक्टर रोटी पैक कराने के लिये अंदर गये हुये थे। उस समय ट्रक ड्राइवर और कंडक्टर नाश्ता कर चुके थे और आतंकवादियों के लिये पराठें पैक करवा रहे थे।

पहले तो पुलिस को लगा कि ट्रक ड्राइवर टोल न देने के कारण वहां से भागा होगा लेकिन जब उन्होंने ट्रक की तलाशी देने को कहा तो ड्राइवर घबरा गया। उन्हें शक हुआ कि मामला कुछ संदिग्ध है। 

ट्रक की अोर पुलिस को आते देख गोलियां बरसाई

पुलिस जवान ने ट्रक की तलाशी लेने के लिये जैसे ही आगे बढ़े तो उसमें छिपे आतंकवादी भी घबरा गये। गोली चलाते हुये आतंकवादी ट्रक से बाहर निकल आये और साथ सटे जंगलों में घुस गये। यह आतंकवादी निक्कर-टी शर्ट पहने हुये थे। जब ये आतंकवादी जंगल की ओर भाग रहे थे तो गांव से एक फारेस्ट गार्ड सड़क की ओर आ रहा था। खाकी वर्दी पहने होने के कारण आतंकवादियों ने उसे पुलिस वाला समझ उस पर फायर खोल दिया। बाजू में गोली लगने से वह घायल हो गया। घायल को जम्मू राजकीय मेडिकल कालेज अस्पताल पहुंचाया गया।

 तलाशी अभियान जारी

आतंकी हमले की सूचना मिलते ही सेना, सीआरपीएफ और पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर व्यापक तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। जम्मू शहर और उसके साथ लगते इलाकों में भी हाई अलर्ट जारी किया गया है। सैन्य सूत्रों के अनुसार यह आतंकी जम्मू के सीमावर्ती क्षेत्र से घुसपैठ कर पहले जम्मू पहुंचे ओर उसके बाद यह श्रीनगर जा रहे थे।107. आतंकवादियों की फायरिंग में घायल फारेस्ट गार्ड को प्राथमिक उपचार देते स्वास्थ्य कर्मी।

Posted By: Preeti jha