श्रीनगर, जेएनएन। दक्षिण कश्मीर के जिला कुलगाम में कुछ संदिग्ध बंदूकधारियों ने सीआरपीएफ की एक पार्टी पर हमला कर दिया है। जैसे ही शाम को यह खबर क्षेत्र में फैली दहशत का माहौल व्याप्त हो गया। सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ की आशंका के चलते इलाके में अफरातफरी का माहौल व्याप्त हो गया। देर शाम पुलिस को जब इस बारे में पता चला तो उन्होंने इसकी जांच की और पाया कि गोलियां की आवाज गूंजने की बात सही है परंतु यह आवाज बंदूक की नहीं बल्कि कार साइलेंसर की थी।

पुलिस के एक वरिष्ठ ने बताया कि आज शाम काजीगुंड के दलवाच इलाके में सीआरपीएफ व पुलिस के संयुक्त नाके पर तीन बार गोलियों की आवाज सुनाई दी। गोलियां आवाज गूंजते ही क्षेत्र में अफरातफरी फैल गई। हालांकि नाके पर तैनात जवान भी सतर्क हो गए। सुरक्षाबलों व आसपास के इलाकों में रहने वाले लोगों को लगा कि नाके पर तैनात जवानों पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया है। यह बात जब क्षेत्र में फैली तो लोगों में दहशत पैदा हो गई। उन्हें लगा कि आतंकवादी उनके इलाके में घुस आए हैं और अब उन्हें पकड़ने के लिए सुरक्षाबल के जवान सर्च ऑपरेशन शुरू करेंगे।

यही नहीं इलाके में कभी भी मुठभेड़ शुरू हो सकती है। यह सूचना जब पुलिस के पास पहुंची तो उनकी टीम भी मौके पर पहुंच गई। जांच करने पर पाया कि नाके से गुजरते हुए एक मारूती वैन से तीन बार पटाखों की आवाज आई जिसके बाद यह अफरा-तफरी फैली। नाके पर तैनात सीआरपीएफ के जवानों ने भी इस बात की पुष्टि की। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने सच्चाई सामने आने पर लोगों से अपील की कि वह इस तरह की अफवाहें न फैलाएं जिसके कारण दूसरों को परेशानी हो। उन्होंने कहा कि काजीगुंड में सीआरपीएफ दल पर किसी तरह का कोई हमला नहीं हुआ है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस