श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल जीसी मुर्मू ने कहा कि शांति, सुरक्षा और विकास सरकार का लक्ष्य है। जल्द यहां अंतरराष्ट्रीय स्तर का निवेशक सम्मेलन भी होगा। यह सम्मेलन जम्मू कश्मीर के विकास के लिए बड़े पैमाने पर पूंजी निवेश का रास्ता खोलेगा जिससे स्थानीय युवाओं के लिए निजी क्षेत्र में रोजगार के कई अवसर पैदा होंगे। उन्होंने स्थानीय युवकों के लिए 40 हजार और नौकरियों के अवसर जुटाए जाने की योजना का उल्लेख किया।

मुर्मू सेंट्रल कश्मीर मेें जिला गांदरबल के मनिगाम स्थित पुलिस ट्रेनिंग स्कूल में 14वें बेसिक रिक्रूटमेंट ट्रेनिंग कोर्स (बीआरटीसी) की पासिंग आउट परेड की सलामी लेने के बाद संबोधित कर रहे थे। 1145 नवारक्षक राज्य पुलिस के विभिन्न विंगों में बतौर कांस्टेबल नियमित हुए हैं। गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर में गत अक्टूबर के दौरान अंतरराष्ट्रीय स्तर का निवेशक सम्मेलन होने वाला था, जिसे बाद में किसी कारण स्थगित कर दिया था। मुर्मू के साथ मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रह्मण्यम, पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह, सेना की चिनार कोर के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों समेत पुलिस, सेना व नागरिक प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी समारोह में मौजूद थे।

रोजगार के सैकड़ों अवसर पैदा होंगे : मुर्मू ने कहा कि जल्द केंद्र शासित जम्मू कश्मीर में सरकार अंतरराष्ट्रीय स्तर का निवेशक शिखर सम्मेलन भीकरने जा रही है। सम्मेलन में निवेशक जम्मू कश्मीर में निवेश के विकल्पों, संभावनाओं पर विचार करेंगे। जम्मू कश्मीर में पूंजी निवेश करेंगे जिससे यहां सामाजिक आर्थिक विकास की गतिविधियां तेजी पकड़ेंगी। स्थानीय युवाओं के लिए सरकारी क्षेत्र से बाहर निजी क्षेत्र में सम्मेलन के जरिए प्रत्यक्ष व परोक्ष रोजगार के सैंकड़ों अवसर पैदा होंगे। हम प्रस्तावित सम्मेलन को पूरी तरह सफल बनाने के लिए सभी प्रयास कर रहे हैं। यह सम्मेलन तभी सफल होगा जब यहां शांति और सुरक्षा का माहौल हो। इसे सफल बनाने के लिए स्थानीय लोगों और पुलिस के सहयोग के आकांक्षी हैं।

शांति, सुरक्षा और विकास ही सरकार का लक्ष्य : उप राज्यपाल ने कहा कि सरकार का एक लक्ष्य है कि इसे पूरे क्षेत्र में शांति, सुरक्षा और विकास का वातावरण हो। यहां लोग सुरक्षा और शांति के माहौल में रहे। इस लक्ष्य को पाने के लिए सभी संभव कदम उठाए जा रहे हैं। हम यहां लंबित पड़ी परियोजनाओं को जल्द पूराकरने क लिए काम कर रहे हैं। ऐसी सभी योजनाओं को सूचीबद्ध करते हुए उनकी प्राथमिकताएं तय की गई है। हम प्रधानमंत्री विकास पैकेज की भी निरंतर निगरानी कर रहे हैं ताकि इसे जल्द कार्यान्वित किया जा सके।

आतंकवाद के मोर्चे पर भी पुलिस आगे : उपराज्यपाल ने कहा कि पुलिस कानून व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी निभाने से लेकर प्राकृतिक आपदाओं में आम लोगों की सुरक्षा व मदद में आगे रहती है। आतंकवाद के मोर्चे पर भी यह पुलिस अग्रणी मोर्चे पर है। राज्य पुलिस के जवानों व अधिकारियों की राष्ट्रभक्ति, बलिदान, कर्तव्यनिष्ठा और पेशेवर दक्षता की जितनी सराहना की जाए कम है।

40 हजार नौकरियां और मिलेंगी : उप राज्यपाल ने कहा कि जम्मू कश्मीर पुलिस दो महिला वाहिनियों और दो सीमांत वाहिनियों का गठन कर रही है। इनमें चार हजार स्थानीय लड़के-लड़कियों को भर्ती किया जा रहा है। सिर्फ यही नहीं उनकी सरकार इस समय पुलिस व अन्य बलों के अलावा विभिन्न सरकारी विभागों में 40 हजार और नौकरियों के अवसर स्थानीय युवाओं के लिए उपलब्ध कराने का प्रयास कर रही है। जल्द ही भर्ती की प्रक्रिया भी शुरू होगी।

पूरी तरह पारदर्शी है पुलिस की भर्ती प्रक्रिया : मुर्मू ने पुलिस भर्ती में अपनाए जाने वाली प्रक्रिया की सराहना करते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर पुलिस की सभी भर्तियां एक पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के तहत ही होती हैं। उन्होंने कहा कि आज यहां से पास आदट हो रहे पुलिस कांस्टेबलों की शैक्षिक योग्यता भी उत्साहजनक है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में कानून के साथ आइटी सेक्टर और सूचना प्रौद्योगिकी के बारे में जानकारी का होना बहुत जरूरी हो चुका है।

यह एक एतिहासिक पल है: उपराज्यपाल ने उप्रशिक्षु कैडेटों को पूरी निष्ठा और समर्पण के साथ जनता की सेवा करने की सलाह दी। अपने संबोधन में नवारक्षकों से कहाकि आज यह पल एक एतिहासिक पल है। आज से आप लोग पुलिस संगठन का एक हिस्सा बन जाओगे और समाज व राष्ट्र के प्रति आपकी जिम्मेदारी भी बढ़ जाएगी। आपको आम लोगों के जान माल के साथ इस राष्ट्र की सुरक्षा का भी दायित्व भी निभाना है।

प्रशिक्षण भत्ता बढ़ाया जाएगा : उपराज्यपाल ने राज्य पुलिस संगठन के अत्याधुनिकीकरण और पुलिस अधिकारियों व जवानों के कल्याण के लिए उठाए जा रहे विभिन्न कदमों का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रशिक्षण केंद्रों में तैनात सभी स्टाफ कर्मियों के भत्तों में बढ़ोत्तरी पर गंभीरता से विचार किया जा रहा है।

कांस्टेबल मोहम्मद असलम को मिली पदोन्नतिः सभी विधाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए आइआरपी की 19वीं वाहिनी के कांस्टेबल मुहम्मद असलम को समय पूर्व सिलेक्शन ग्रेड कांस्टेबल के रैंक में पदोन्नत किया कांस्टेबल नजारत हुसैन को आल राउंड बेस्ट में दूसरे स्थान पर रहे और उन्हें 10 हजार रुपये का नकद ईनाम दिया गया। कांस्टेबल जमशीद अहमदद को आल राऊंड में तीसरा और इंडोर गतिविधियों में पहला स्थान मिला है। उन्हें 15 हजार नकद इनाम प्रदान किया गया है। कांस्टेबल इश्तियाक और राहुल जंडियाल ने आउटडेार व रेंज क्लासीफिकेशन में क्रमश: प्रथम स्थान प्राप्त किया है। दोनों को 7500-7500 रुपये इनाम प्रदान किए गए। परेड कमांडर कांस्टेबल साकिब अमीन को और उनके द्वितीय परेड कमांडर वसीम अहमद को सम्मानित किया गया है।  

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस