जम्मू, जेएनएन। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रियासी जिला के जांबाज ग्रामीणों द्वारा लश्कर-ए-तैयबा के दो वांछित आतंकियों को पकड़ने के लिए उनकी वीरता को सलाम करते हुए पांच लाख रुपये इनाम देने का एलान किया है।

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि मैं रियासी जिला के तसकन ढोक के वीर ग्रामीणाें को सलाम करता हूं जिन्होंने दो वांछित आतंकियों को पकड़ने में अपने अदम्य साहस और वीरता का परिचय दिया है। आम नागरिक का यह संकल्प और साहस यह दर्शाता है कि प्रदेश में आतंकवाद का अंत अब दूर नहीं है। केंद्र शासित प्रदेश सरकार वीर ग्रामीणों को वीरतापूर्ण कार्य के लिए पांच लाख रुपये का नकद इनाम देगी।

उल्लेखनीय है कि तकसन ढोक में ग्रामीणों ने आज लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकियों को जिंदा पकड़ा है। इन दोनों आतंकियों को पहले रस्सियां से बांधा गया और फिर स्थानीय पुलिस को तुरंत इस बाबत सूचित कर दिया गया। चूंकि सेना और पुलिस ने प्रदेश में बचेखुचे आतंकियों के खात्मे के लिए अभियान छेड़ा है, ऐसे में यह दोनों आतंकी इस क्षेत्र में शरण लेने पहुंचे थे लेकिन सतर्क ग्रामीणों ने इन दोनों आतंकियों को हथियारों संग जिंदा पकड़ा।

पकड़े गए दोनों आतंकियों की पहचान कर ली गई है। एक आतंकी की पहचान फैजल डार पुत्र बशीर अहमद डार निवासी बारामुला और दूसरे आतंकी की पहचान तालिब हुसैन पुत्र हैदर शाह निवासी राजौरी के रूप में हुई है। छानबीन में पता चला तालिब हुसैन भाजपा के अल्पसंख्यक मोर्चा के आइटी सेल का इंचार्ज है।आतंकियों के कब्जे से दो एके राइफल, सात हथगोले और एक पिस्तौल बरामद हुई है। पुलिस ने दोनों आतंकियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। यहां यह बता दें कि पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने भी तकसन के वीर ग्रामीणों को दो लाख रुपये इनाम में देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें : रियासी जिला के तकसन गांव में ग्रामीणों ने एलईटी के दो आतंकियों को पकड़ा, डीजीपी देंगे 2 लाख रुपये इनाम

Edited By: Vikas Abrol