जागरण संवाददाता, जम्मू: कुछ दिन बाद सोमवार की रात फिर झमाझम बारिश हुई। इससे शहर के निचले इलाकों में फिल जलभराव हो गया। बारिश इतनी तेज थी कि दोपहियां वाहन चलाने वालों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। बारिश के कारण शहर के अधिकतर इलाकों में बिजली की आपूर्ति ठप हो गई। इससे बारिश के बीच विभिन्न इलाके अंधेरे में डूब गए। तेज बारिश के बीच वाहन चालकों और राहगीरों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा। चार पहिया चलाने वालों को सड़क पर चलना मुश्किल हो गया।

सड़कों पर भरे पानी से पता नहीं चल रहा था कि सड़क में गड्ढे कहां है। इससे लोग बहुत धीरे वाहन चला रहे थे। गांधी नगर के रमेश कुमार का कहना है कि इतनी तेज बारिश उन्होंने पहली बार देखी है। ऐसा लग रहा था कि कहीं बादल न फट गया हो। करीब एक घंटे तक चली बारिश ने जनजीवन प्रभावित कर दिया। निचले इलाकों में रहने वाले लोग बारिश को देख सहम गए। किसानों की धान की फसल के लिए बारिश वरदान बन गई है। बारिश होने से बीते चार दिन से उमस भरी गर्मी से लोगों को राहत मिली है। मौसम विभाग का कहना है कि मंगलवार को भी कुछ और इलाकों में बारिश की संभावना है।

सोमवार को कटड़ा में 22.6 मिलीमीटर जबकि बटोत में 0.6 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई। सोमवार दोपहर को काफी समय तक जम्मू में तेज धूप रही। दिनभर बादलों और सूर्य में लुकाछिपी का यह खेल शाम तक चलता ही रहा। शाम के समय हवाएं चलना शुरू हुई तो लोगों को गर्मी से थोड़ा आराम मिला। देर शाम आसमान में घने बादल छाने लगे थे। रात होते ही झमाझम बारिश शुरू हो गई। सोमवार को जम्मू का अधिकतम तापमान 34.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो सामान्य से 1.5 डिग्री सेल्सियस अधिक है। न्यूनतम तापमान 25.1 डिग्री सेल्सियस रहा।

-------- अधिकतम न्यूनतम

जम्मू 34.5 25.1

बनिहाल 30.4 16.0

बटोत 27.5 17.9

कटड़ा 32 22.8

भद्रवाह 25.8 18.1

श्रीनगर 31.1 18.6

काजीगुंड 29 17

पहलगाम 25.6 14

कुपवाड़ा 30.5 15.5

कुकरनाग 27.1 15.3

गुलमर्ग 19 11

(तापमान डिग्री सेल्सियस में)

Edited By: Jagran