राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : वैश्विक महामारी कोरोना और पूर्वी लददाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर जारी सैन्य तनाव से पैदा हालात के मद्देनजर चुनाव स्थगित किए जाने की विपक्ष की मांग को नजर अंदाज करते हुए केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख प्रशासन ने लद्दाख स्वायत्त पर्वतीय विकास परिषद (एलएएचडीसी)लेह के चुनावों की अधिसूचना जारी कर दी है। पूरे प्रदेश में आदर्श चुनाव आचार संहिता भी लागू हो गया है।

उल्लेखनीय है कि केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद लददाख में पहली बार एलएएचडीसी लेह के चुनाव होने जा रहे हैं। चुनाव विभाग के सचिव सौगात विश्वास ने चुनाव अधिसूचना की पुष्टि करते हुए बताया कि एलएएचडीसी, लेह की मौजूदा परिषद का कार्यकाल दो नवंबर 2020 को समाप्त हो रहा है। यह पांचवीं परिषद है। छठी परिषद के गठन के लिए चुनाव अधिसूचना जारी कर दी है। मतदान 16 अक्टूबर को होगा और परिणाम 22 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे। एलएएचडीसी, लेह में छह निर्वाचन क्षेत्र हैं। उन्होंने बताया कि नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जो 28 सितंबर तक चलेगी। नामांकन पत्रों की छंटनी 29 सितंबर को होगी और नामांकन पहली अक्टूबर 2020 तक वापस लिए जा सकते हैं। यह पूरी प्रक्रिया परिस्थितियों के अनुकूल रहने पर 27 अक्टूबर 2020 तक संपन्न हो जाएगी।

एलएएचडीसी ,लेह का गठन 1995 में हुआ था जबकि एलएएचडीसी, करगिल का गठन 2003 में किया गया है। एलएएचडीसी,करगिल के चुनाव बीत साल ही हुए हैं जबकि लेह के चुनाव 2015 में हुए थे।

अगले महीने होने जा रहे चुनावों में मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा में ही होने की उम्मीद है। कांग्रेस, नेकां, पीडीपी व अन्य कुछ संगठन यह चुनाव मिलकर भी लड़ सकत हैं। यह सभी संगठन मौजूदा परिस्थितियों में एलएएचडीसी लेह के चुनाव स्थगित किए जाने पर भी जोर दे रहे थे। इन दलों का कहना है कि कोविड-19 महामारी और पूर्वी लददाख के हालात का मतदान पर असर पड़ सकता है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस