जागरण संवाददाता, जम्मू : पिछले महीने से राहत राशि नहीं मिलने पर कश्मीरी विस्थापितों ने वीरवार को रिलीफ कमिश्नर कार्यालय परिसर में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे कश्मीरी पंडित विस्थापितों का कहना था कि सरकारी राहत राशि ही उनके जीवन का सहारा है। अगर यह पैसा उन्हें समय पर नहीं मिलेगा तो वह सड़कों पर आ जाएंगे।

यह प्रदर्शन कश्मीरी माइग्रेंटस रिलीफ होल्डर एंड ओवरएज यूथ संगठन की ओर से किया गया, जिसका नेतृत्व रविद्र कौल ने किया। उन्होंने कहा कि राहत राशि नहीं मिलने से कश्मीर पंडित परिवार कई परेशानियों से गुजर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वर्षो से कश्मीर पंडित रोजगार की मांग करते आ रहे हैं, लेकिन सरकार उनकी मांग नहीं सुन रही है और अब राहत राशि भी समय पर नहीं जारी हो रही है। उन्होंने कहा कि राहत पाने वाले अधिकतर युवा अब ओवर एज भी हो चुके हैं। ऐसे में वे पूरी तरह से राहत राशि पर ही निर्भर हैं। प्रदर्शन कर रहे कश्मीरी विस्थापितों ने रिलीफ कमिश्नर को ज्ञापन सौंपकर जल्द राहत राशि जारी करने की मांग की। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि जल्द राहत राशि नहीं मिली तो बडे़ स्तर पर आंदोलन करेंगे।

प्रदर्शनकारियों का कहना था इस समय महंगाई बहुत बढ़ गई है। पेट्रोल-डीजल और घरेलू गैस सभी महंगे हो गए हैं। खाद्य सामग्री के दाम भी आसमान छू रहे हैं। ऐसे में नौकरी नहीं होने से उनके लिए परिवार का भरण-पोषण करना मुश्किल हो गया है। महंगाई की वजह से उनके सिर पर काफी कर्ज भी चढ़ गया है। इसलिए सरकार को उनकी मदद करनी चाहिए, लेकिन सरकार ने राहत राशि ही देना बंद कर दिया।

Edited By: Jagran