जागरण संवाददाता, जम्मू: माईग्रांट पोलिग स्टेशन जगटी समेत कुछ अन्य बूथ पर वोट डालने वाले कश्मीरी पंडितों को अपने मताधिकार से वंचित रहना पड़ा। इन लोगों के नाम वोटर लिस्ट से गायब थे। इसे लेकर जगटी मतदान केंद्र के बाहर कश्मीरी पंडितों ने प्रदर्शन किया।

कश्मीरी पंडितों का कहना है कि उन्होंने एम फार्म भरे थे, उसके बाद भी वोटर लिस्ट में नाम नहीं है जो कि लापरवाही का मामला है। आज प्रशासन की गलती के कारण वोट नहीं डाल पा रहे। 1990 में कश्मीर से पलायन कर जम्मू क्षेत्र में आए कश्मीरी पंडितों के मतदान के लिए चुनाव आयोग ने जम्मू के आसपास 21 माईग्रांट पोलिग स्टेशन बनाए हुए थे, मगर कई के वोटर लिस्ट से नाम गायब थे। उदयवाला में बनाए गए पोलिग स्टेशन पर भी कई कश्मीरी पंडितों को अपना नाम वोटर लिस्ट में नहीं मिला। यूथ ऑल इंडिया कश्मीरी समाज के वरिष्ठ नेता अजय सफाया ने बताया कि यह लापरवाही का मामला है। इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की जाएगी। कश्मीरी पंडित आज लोकतंत्र को मजबूत करने में जुटा हुआ है, लेकिन कुछ कश्मीरी पंडित वोट डालने से वंचित रह गए। वीरजी रैना ने बताया कि वोटरों के नाम नहीं है। लोगों को बिना वोट डाले ही वापस जाना पड़ा।

वहीं, दूसरी ओर सहायक चुनाव अधिकारी ने आश्वास्त किया कि कोई भी वोटर ऐसा नहीं जो वोट नहीं डाल पाया हो।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस