जम्मू, एएनआई। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी मिली है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बडगाम जिले में जिंदा आतंकी पकड़ा है। गिरफ्तार आतंकी की पहचान शौकत अहमद तांतरी के रूप में हुई है जो हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है। पुलिस ने काजीपोरा इलाके से शौकत को हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। वह हथियार और गोला-बारूद ले जा रहा था। पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, वह आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़ा हुआ था।

बडगाम पुलिस ने बताया कि विश्वसनीय जानकारी के आधार पर आतंकी के छिपे होने की जानकारी मिली थी जिसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया। इन दिनों जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ तेजी से अभियान चलाया जा रहा है। इससे पहले 29 जुलाई को एनआईए ने प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के एक सदस्य को भारत में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने और अपने आधार को मजबूत बनाने के एक मामले में गिरफ्तार किया था। 

जानकारी हो कि 24 जुलाई को जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले के जंगलों में चलाए गए संयुक्त अभियान में सुरक्षा बलों ने लश्कर-ए-तैयबा के पांच लाख रुपये के एक इनामी आतंकवादी को गिरफ्तार किया था। आतंकी की पहचान जमालुद्दीन गुज्जर उर्फ अबु बकर के रूप में हुई थी जिसे ठठरी इलाके के फागसू जंगल में पुलिस और 26 राष्ट्रीय रायफल्स के संयुक्त अभियान में पकड़ा गया था। 

एनआईए ने बताया था कि पुलवामा जिले के त्राल निवासी और जम्मू के कोट भलवाल में केंद्रीय कारागार में बंद मुजफ्फर बट उर्फ मुजफ्फर अहमद बट (25) को गिरफ्तार किया गया। केंद्रीय कारागार में वह जनसुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत बंद था। बट को नयी दिल्ली में एनआईए की विशेष अदालत में पेश किया गया जहां से उसे एजेंसी की नौ दिन की हिरासत में भेज दिया गया है। एजेंसी ने बताया कि जांच से पता चला है कि वह वॉट्सऐप पर इस मामले के मुख्य अभियुक्त मुदस्सिर अहमद (अब मृत) के साथ संपर्क में था। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप