राजौरी, जेएनएन। राजौरी जिले के नौशहरा में आतंकवादियों के घुसपैठ करने की साजिश को नाकाम बनाते शहीद हुए सेना के नायब सूबेदार (जेसीओ) वालटे सुनील रावसाहेब का पार्थिव शरीर बुधवार को सैन्य सम्मानपूर्वक घर भेजा गया। शहीद नायब सूबेदार को पहले राजौरी व उसके बाद जम्मू में सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने सलामी दी। शहीद सुनील अमर रहे के नारों के बीच उनके पार्थिव शरीर को जम्मू एयरपोर्ट से विशेष विमान में दिल्ली भेजा गया है। शहीद का पार्थिव शरीर दिल्ली से दोपहर बाद विशेष विमान में पुणे भेज दिया गया।

गत मंगलवार को नौशहरा के कलाल सेक्टर में एलओसी पर आतंकियों के एक समूह ने भारतीय क्षेत्र में घुसकर सेना की चौकी पर हमला कर दिया था।इन आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए पाकिस्तान ने पहले गोलाबारी की। उसी गोलाबारी की आड़ में आतंकवादियों का यह दल भारतीय क्षेत्र में 500 मीटर अंदर घुस आया और सेना की चौकी पर करीब से गोलीबारी शुरू कर दी। इस हमले में महाराष्ट्र निवासी नायब सूबेदार वालटे सुनील रावसाहेब गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें पास के सैन्य अस्पताल में लाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।

हमले के बाद आतंकियों की तलाश में सेना ने एलओसी के पास बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया। परंतु आतंकवादी का कोई सुराग नहीं लग पाया है। सेना अभी भी चौकसी बरते हुए है और सीमा से सटे रिहायशी इलाकों में रहने वाले लोगों को भी सचेत रहने को कहा गया है। वहीं शहीद का पार्थिव शरीर पुणे पहुंचने के बाद वहां से उन्हें वाहन द्वारा उनके पैतृक गांव तक पहुंचाया जाएगा।

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप