जम्मू, जागरण संवाददाता: कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए लगाए गए वीकेंड लॉकडाउन का शनिवार को शहर की सड़कों पर एक बार फिर से काफी असर देखा गया। लॉकडाउन के दौरान यात्री वाहन पूरी तरह से बंद रहे। बाजारों में दुकानें बंद रहने से चारों ओर सन्नाटा रहा। हालांकि सड़कों पर इक्का-दुक्का निजी वाहन चलते नजर आए लेकिन चौक-चौराहों पर पुलिस की तैनाती रही और हर वाहन चालक से पूछताछ के बाद उन्हें आगे जाने की इजाजत दी गई।

लॉकडाउन के चलते पुलिस ने एक बार फिर शहर की मुख्य सड़कों व चौक-चौराहों पर तारबंदी कर दी है और केवल इमरजेंसी में ही लोगों को आनेजाने की अनुमति दी जा रही है।

प्रदेश प्रशासन की ओर से शुक्रवार रात आठ बजे से लॉकडाउन लगाया गया है जो अब सोमवार सुबह सात बजे तक जारी रहेगा। इस दौरान केवल आवश्यक सेवाओं को ही जारी रखने की अनुमति है। लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के लिए पुलिस ने शहर की सभी मुख्य सड़कों, चौक-चौराहों पर नाकेबंदी की है। कई जगहों पर तारबंदी कर दी गई है।

लॉकडाउन के बीच शनिवार को सभी बाजार बंद रहे और सुबह छह से दस बजे तक केवल खाद्य सामग्री वाली दुकानें ही खुली। लॉकडाउन का पालन करवाने के लिए पुलिस भी सख्ती करती नजर आई और जो लोग लॉकडाउन में बाहर निकले, उनसे पूछताछ के साथ कार्रवाई भी की गई।

लॉकडाउन के बीच शनिवार सुबह दूध-दही, फल-सब्जी व अन्य खाद्य वस्तुओं की दुकानों को सुबह चार घंटे के लिए खोलने की अनुमति मिली थी। अब रविवार को भी इन दुकानों को खोलने की अनुमति मिलेगी और सोमवार से एक बार फिर से रोटेशन पर दुकानें खुलेगी। 

Edited By: Rahul Sharma