जम्मू, राज्य ब्यूरो। पस्सियां गिरने से रविवार दोपहर को बंद हुए जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर आज भी वाहनों की आवाजाही बहाल नहीं हो पायी। हालांकि प्रशासन ने पस्सियां हटाने का काम तेज से चलाया हुआ है। ट्रैफिक विभाग का कहना है कि मंगलवार दोपहर बाद ही मार्ग के खुलने की संभावना है। 300 किलोमीटर लंबे इस जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर सात हजार से अधिक वाहन फंसे होने की बात कही जा रही है। हालांकि प्रशासन ने यात्रियों व ट्रक चालकों को दिक्कत न हो इसके लिए नगरोटा से श्रीनगर के बीच 18 शेड बनाए हैं। वे इन शेड में रह सकते हैं। यह वही शेड हैं जो अमरनाथ यात्रा के दौरान लंगर समितियों को प्रदान किए जाते हैं।

ट्रैफिक विभाग ने कहा कि उन्हें यह स्पष्ट दिर्नेश दिए गए हैं कि पस्सी हटने के बाद राजमार्ग खुलने पर सबसे पहले उन्हीं वाहनों को निकाला जाए तो फंसे हुए हैं। यातायात पूरी तरह सुचारू होने के बाद भी अन्य वाहनों को सड़कों पर उतरने की इजाजत दी जाए। वहीं पुंछ से श्रीनगर से जोड़ने वाली मुगल रोड पर भी बर्फ हटाने का काम शुरू कर दिया गया है। 

जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग वीरवार को भारी बर्फबारी के बाद बंद हो गया था। हालांकि बीच-बीच में राजमार्ग खुला और फंसे वाहनों को निकाला भी किया। रविवार तड़के तीन बजे राजमार्ग फिर से खोल दिया गया था। लेकिन दोपहर बाद रामबन के पास डिगडोल में पस्सियां गिरने के कारण राजमार्ग को फिर से बंद कर दिया गया था। करीब सौ मीटर सड़क पर पहाड़ों से मलवा व चट्टानें गिरी है। ट्रैफिक कंट्रोल यूनिट रामबन के अनुसार रविवार दोपहर तीन बजे के बाद राजमार्ग बंद है। पस्सियां व मलवा हटाने का काम जारी है। छह मशीनें लगाई गई हैं। लेकिन अभी शाम तक ही राजमार्ग खुलने की उम्मीद है।

जम्मू के डिवीजनल कमिश्नर संजीव वर्मा का कहना है कि जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को खाेलने का प्रयास जारी है। उम्मीद है कि जल्दी ही पस्सियां हटा दी जाएंगी। रविवार को कुछ देर के लिए राजमार्ग खुलने के बाद दोनों ओर फंसे छोटे वाहनों को निकाला गया था। इसके बाद खाद्य पदाथों व अन्य जरूरी सामान से लदे ट्रकों को छोड़ा गया था। राजमार्ग खुलने में अभी आठ से दस घंटे लग सकते हैं। इस समय राजमार्ग के दोनों ओर दो हजार के करीब वाहन फंसे हुए हैं।

वहीं पुंछ और राजौरी जिलों को दक्षिण कश्मीर के साथ जोड़ने वाला मुगल रोड भी सोमवार को लगातार छठे दिन भी बंद है। पीर की गली से शोपियां के बीच भारी बर्फबारी होने के कारण यह मार्ग बंद किया गया था। ट्रैफिक विभाग का कहना है कि यदि इसी तरह बर्फबारी बंद रही तो इस मार्ग पर भी वाहनों की आवाजाही कल से शुरू कर दी जाएगी। दोनों ही मार्ग बंद होने से श्रीनगर सड़क मार्ग से देश के शेष भागों से पूरी तरह से कटा हुआ है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस