जम्मू, जागरण संवाददाता : शहर में सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए जम्मू नगर निगम ने प्रयास और तेज किए हैं। वीरवार को निगम ने तीन नए लोडर अपने वाहनों के काफिले में शामिल किए। जल्द ही दो रिफ्यूज कम्पेक्टर मशीनें भी खरीद जाएंगी। इनके निगम के वाहनों के वेड़े में शामिल होने से शहर में लगने वाले गंदगी के ढेरों को उठाने में आसानी होगी।

मेयर चंद्र मोहन गुप्ता ने डिप्टी मेयर पूर्णिमा शर्मा और निगम आयुक्त अवनी लवासा के साथ मांडा में इन फ्रंट एंड लोडर का उद्घाटन किया। मेयर व डिप्टी मेयर ने कहा कि शहर को साफ-सुथरा बनाने के लिए लोडर की काफी जरूरत थी। तीन नए लोडर खरीदे गए हैं। इनकी कीमत करीब 58.98 लाख रुपये है। इन लोडरों का काम कचरा के ढेरों को उठाकर टिप्परों में डालना रहता था। उन्होंने कहा कि शहर में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए निगम हर संभव प्रयास कर रहा है।

शहर में 150 आटो लगाए गए हैं जो घरों से कचरा उठा रहे हैं। इस कचरे को मुख्य प्वाइंट तक लाया जाता है और फिर वहां से लोडर की मदद से बड़े वाहनों में भर दिया जाता है। इस कचरे को फिर कोट भलवाल स्थित डंपिंग साइट तक लाया जाता है। मेयर ने कहा कि हम सालिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट पर भी काम कर रहे हैं। वित्तीय अड़चनों के चलते प्रोजेक्ट अंतिम चरण में अटका हुआ है। वित्त विभाग से बातचीत जारी है। उम्मीद कर सकते हैं कि जल्द ही शहर में सालिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट शुरू होगा और शहर से निकलने वाले कचरे का वैज्ञानिक तरीके से निस्तारण होगा। मेयर ने कहा कि कोर्ट के भी आदेश हैं कि सुबह 11 बजे से पहले कचरा उठे। इन हालातों में हमें मशीनरी की जरूरत है। यह लोडर आने से काफी राहत मिलेगी और मशीनरी भी खरीदी जाएगी।

कमिश्नर अवनी लवासा ने कहा कि वाहनों का बेड़ा मजबूत किया जा रहा है। जल्द ही 14 क्यूविक मीटर क्षमता वाले दो रिफ्यूज कम्पेक्टर खरीदें जाएंगे। शहर को स्वच्छ बनाने के लिए निगम हर संभव प्रयास कर रहा है। शहर वासी भी निगम का सहयोग करें। वहीं चीफ ट्रांसपोर्ट आफिसर हरविंद्र सिंह ने कहा कि निगम के पास 150 से ज्यादा वाहनों का बेड़ा है। आटो, टिप्पर, जेसीबी मशीनें, लोडर इसमें शामिल हैं। नए लोडर मिलने से कचरा उठाने में और आसानी हो जाएगा। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस