जम्मू, जेएनएन। पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव जम्मू-कश्मीर पर पड़ता दिखने लगा है। सुबह से ही श्रीनगर के मैदानी इलाकों में बारिश जबकि पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी होने से घाटी में शीतलहर का प्रकोप बढ़ गया है। श्रीनगर के गुलमर्ग, सोनमर्ग और मुगल रोड व जोजिला में इस मौसक की पहली बर्फबारी हो रही है। इसके कारण मुगल रोड व जोजिला मार्ग पर वाहनों की आवाजाही बंद है। बर्फबारी बंद होने के बाद ही सड़क पर से इसे हटाने का काम शुरू किया जाएगा। ट्रैफिक विभाग का कहना है कि बर्फ से सड़क पर फिसलन बढ़ गई है। ऐसे में कोई हादसा पेश न आए इसको लेकर फिलहाल वाहनों की आवाजाही दोनों आेर से बंद की गई है। श्रीनगर के भीतर पहाड़ी इलाके तंगदार व मच्छल में भी सड़क मार्ग बंद है।

मौसम विभाग ने पहले से ही 6 से 8 नवंबर के बीच भारी बर्फबारी और बारिश होने की चेतावनी दे रखी थी। यही नहीं उन्होंने राज्य प्रशासन को इस बारे में भी सचेत कर रखा है कि सात नवंबर की रात को भारी बर्फबारी होने की संभावना है। कश्मीर में सर्दी की पहली बारिश व बर्फबारी ने अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर दिया है। सर्दी बढ़ जाने के कारण आम दिनों के मुकाबले आज सड़कों पर काफी कम लोग दिखे।

वहीं जम्मू में भी आज तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। हालांकि मौसम विभाग के विशेषज्ञ सोनम लोटस ने कहा कि यह बर्फबारी कृषि के लिहाज से अच्छी है परंतु यह खेतों में खड़ी फसल को नुकसान भी पहुंचा सकती है। यही नहीं उन्होंने यह भी जानकारी दी कि यह बारिश व बर्फबारी दिल्ली में छाए प्रदूषण के बादल को भी कम करने में मददगार साबित होगी।

वहीं जम्मू के मैदानी इलाकों में भी बारिश के साथ ओलावृष्टि की संभावना है। ऐसे में कृषि विशेषज्ञों ने किसानों को 9 जून तक बिजाई के कार्यों को स्थगित करने का सुझाव दिया है। यही नहीं उन्होंने खेतों में कटे धान को संभालने एवं जमीन से जल निकासी की उचित व्यवस्था करने के लिए भी कहा है। जम्मू की बात करें तो यहां भी हल्के बादल छाए हुए हैं। सुबह व शाम के समय ठंड ने भी अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर दिया है। इससे साफ है कि आने वाले दिनों में मौसम करवट बदलेगा और ठंड अपने रंग दिखाने लगेगी।

कश्मीर संभाग में पहले से तापमान में भारी गिराबट आ चुकी है। पहलगाम का न्यूनतम तापमान -0.7 डिग्री सेल्सियस जबकि गुलमर्ग का न्यूनतम तापमान -0.5 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़क गया। आने वाले दिनों शीतलहर का प्रकोप और बढ़ेगा। केंद्र शासित लद्दाख की बात करें तो वहां लेह का न्यूनतम तापमान -4.7 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया है, कारिगल का न्यूनतम तापमान -2.4 दर्ज किया गया है। जिला पुंछ से कश्मीर को जोड़ने वाली मुगल रोड के पीर गली इलाके में बर्फबारी होने से यह मार्ग यातायात के लिए बंद कर दिया गया है। वहीं कश्मीर को लेह से जोड़ने वाला जोजिला मार्ग भी बर्फबारी के कारण वाहनों के लिए बंद कर दिया गया है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस