जम्मू, राज्य ब्यूरो। गुड गवर्नेंस इंडेक्स मेंं जम्मू-कश्मीर में जम्मू जिला पहले स्थान पर आया है। वहीं डोडा जिला दूसरे और सांबा तीसरे स्थान पर रहा है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा शनिवार को जारी इस इंडेक्स में दस विभागों में विभिन्न जिलों को 58 मानकों पर उनके प्रदर्शन को आंका गया है।

कश्मीर का कोई भी जिला पहले तीन स्थानों पर जगह नहीं बनाया पाया।गुड गवर्नेंस इंडेक्स को कृषि व संबंधित क्षेत्र, उद्योग एवं वाणिज्य, मानव विकास, जन स्वास्थ्य, आधारभूत ढांचा व अन्य सुविधाएं, वित्तीय समावेश, समाज कल्याण और विकास, न्यायिक और सार्वजनिक सुरक्षा तथा पर्यावरण के मानकों पर तैयार किया गया था। इसमें सभी क्षेत्र को मिलाकर जम्मू जिले को कुल 5.740 अंक मिले और पहले स्थान पर रहा।

वहीं डोडा जिले को कुल 5.367 अंक मिले और यह दूसरे स्थान पर रहा। लेकिन सांबा जिले ने डोडा को कड़ी टक्कर दी और मात्र कुछ दशमलव अंकों से पिछड़ गया। सांबा जिले को 5.364 अंक मिले और यह तीसरे स्थान पर रहा। रिपोर्ट के अनुसार पुलवामा चौथे, श्रीनगर पांचवें, गांदरबल छठे, अनंतनाग सातवें, बारामुला आठवें, कठुआ नौवें, कुपवाड़ा दसवें, किश्तवाड़ 11वें, बडगाम 12वें, ऊधमपुर 13वें, रियासी 14वें, बांडीपोरा 15वें, रामबन 16वें, कुलगाम 17वें, शोपियां 18वें, पुंछ 19वें और राजौरी अंतिम पायदान पर रहा।

कृषि क्षेत्र में किश्तवाड़ आगे

कृषि क्षेत्र में किश्तवाड़ जिला सबसे आगे रहा। जिले ने कुल 0.772 अंक हासिल किए। वहीं दूसरे स्थान पर दूसरे स्थान पर श्रीनगर और तीसरे पर डोडा रहा। इसमें खाद्य उत्पादन, हार्टीकल्चर उत्पाद, दूध उत्पादन के मानकों को देखा गया। इसके अलावा पोल्ट्री उत्पादन, मीट उत्पादन, फसल बीमा, किसान क्रेडिट कार्ड, सायल हेल्थ कार्ड, पशुओं के टीकाकरण की स्थिति भी देखी गई।

उद्योग एवं वाणिज्य में जम्मू शीर्ष पर

उद्योग एवं वाणिज्य के क्षेत्र में जम्मू जिला शीर्ष पर रहा। इसमें रामबन दूसरे और कुपवाड़ा तीसरे स्थान पर रहा। इसमें जीएसटी के तहत व्यपारिक प्रतिष्ठानों के पंजीकरण, मध्यम एवं लधु उद्योगों के पंजीकरण, हैंडीक्राफ्ट और संबंधित क्षेत्रों को बढ़ावा देने, स्वयं रोजगार, पर्यटकों में बढ़ोतरी को आधार बनाया गया।

मानव संसाधन में पुलवामा नंबर एकमानव संसाधन में पुलवामा जिला नंबर एक पर रहा है। इसमें गांदरबल दूसरे और सांबा तीसरे स्थान पर रहा। इसमें शिक्षा के क्षेत्र में अनुसुचित जाति, जनजाति के लोगों का पंजीकरण करने, शिक्षकों और बच्चों का अनुपात, स्कूलों मेंबिजली, पानी और शोचालयों की स्थिति, कुल बच्चों को दिए जाने वाला मीड डे मील और कौशल प्रशिक्षण को मानक रखा था।

जन स्वास्थ्य में रियासी आगे

जन स्वास्थ्य में रियासी जिला पहले स्थान पर रहा। वहीं जम्मू दूसरे और श्रीनगर तीसरे स्थान पर रहा। इसमें टीकाकरण, नवजात शिशु मृत्यु दर, प्रसव के दौरान मां की मौत, सरकारी संस्थानों में होने वाले प्रसव, प्राथमिक चिकित्सा केंद्रों को हेल्थ और वेलनेस सेंटरों में बदलना, अपनी इमारतों में चल रहे आंगनवाड़ी केंद्र और जारी हुए कुल गरेल्डन कार्ड को मानक रखा गया था।

आधारभूत ढांचा और अन्य सुविधाएं

आधारभूत ढांचा और अन्य सुविधाओं में श्रीनगर जिला पहले स्थान पर है। इसमें जम्मू जिला दूसरे स्थान पर और सांबा जिला तीसरे स्थान पर रहा। इसमें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सभी को आवास, घरों में सुरक्षित पेयजल, घरों में सफाई व्यवस्था, कुल घरों में बिजली की व्यवस्था और सड़कों के नेटवर्क को आधार बनाया गया था। 

Edited By: Vikas Abrol