जम्मू, राज्य ब्यूरो : केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के सरकारी कर्मियों, पेंशन व फैमिली पेंशन धारकों के लिए खुश खबरी है। सरकार ने कर्मचारियों के मूल वेतन पर महंगाई भत्ते (डीए) को तीन फीसद बढ़ा दिया है। बढ़ा हुआ डीए एक जुलाई 2021 से लागू माना जाएगा। सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के तहत काम कर रहे रेगुलर सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में तीन फीसद की वृद्धि की गई है मौजूदा डीए मूल वेतन का 28 फीसद है जिसे 1 जुलाई 2021 से 31 फीसद किया गया है।

कर्मचारियों को डीए की बकाया राशि नवंबर महीने में दी जाएगी। वहीं सरकारी पेंशन और फैमिली पेंशन धारकों को दिए जाने वाले डीए में भी 3 फीसद की बढ़ोतरी की गई है। मूल पेंशन का मौजूदा डीए 28 फीसद था जिसे बढ़ाकर 31 फीसद किया गया है। बढ़ा हुआ एक जुलाई 2021 से लागू होगा। डीए की बकाया राशि पेंशन व परिवार पेंशन धारकों को नवंबर महीने में नकद हासिल होगी। इस संबंध में आदेश वित्त विभाग के वित्तीय आयुक्त अतिरिक्त मुख्य सचिव अटल डुल्लु ने जारी किए है। इस बीच सचिवालय के लो ग्रेड कर्मचारी यूनियन के प्रधान ईशर दास शर्मा ने महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के सरकार के फैसले की सराहना की है। उन्होंने कहा कि इससे कर्मचारियों को राहत मिलेगी।

शेर-ए-कश्मीर कृषि विवि कश्मीर के 17 कर्मियों को वापस बुलाया : जम्मू कश्मीर पुनर्गठन कानून 2009 के तहत मिले अधिकारों और शेर-ए-कश्मीर कृषि, विज्ञान और तकनीक विश्वविद्यालय कश्मीर के वाइस चांसलर की सिफारिशों और केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख प्रशासन सिफारिशों पर जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल ने लद्दाख में विश्वविद्यालय की छह यूनिटों में कार्यरत 17 कर्मचारियों को वापस बुलाने को मंजूरी दे दी है। सामान्य प्रशासन विभाग की तरफ से जारी आदेश के तहत कर्मचारियों को वापिस शेर- ए- कश्मीर कृषि, विज्ञान और तकनीक विश्वविद्यालय कश्मीर में वापस लाया जाएगा। पहले इन सभी कर्मचारियों की तैनाती लद्दाख के विभिन्न इलाकों में थी।

Edited By: Rahul Sharma