श्रीनगर, जेएनएन : कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान बैठे आतंकी संगठन जीतोड़ प्रयास कर रहे हैं। घाटी में दम तोड़ रहे आतंकवाद को हवा देने के लिए नियंत्रण रेखा पर बनाए गए लांचिंग पैड से आज कुछ आतंकवादियों ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ का प्रयास किया परंतु सतर्क भारतीय जवानों ने न सिर्फ उनकी साजिशों को नाकाम बना दिया बल्कि जवाबी कार्रवाई में एक आतंकवादी को ढेर कर दिया। मारे गए आतंकी के कब्जे से दो एके-47 राइफल, दो पिस्तौल, दो ग्रेनेड और 10 किलो नशे की खेप बरामद हुई है।आतंकी की अभी पहचान संभव नहीं हो पाई है।

सेना ने इसके बाद नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में सर्च ऑपरेशन भी चलाया। जब इस बात की पुष्टि हो गई कि आसपास कोई ओर आतंकी मौजूद नहीं है, तो अभियान को समाप्त करते हुए सेना ने गांव के लोगों को सचेत रहने की हिदायत दी। किसी भी संदिग्ध के दिखने पर पुलिस या सेना को सूचित करने को कहा।

स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कुपवाड़ा के तंगधार सेक्टर में घुसपैठ का यह प्रयास आज सुबह किया गया। सीमा पार पाकिस्तान से कुछ आतंकवादी जब भारतीय सीमा में प्रवेश कर रहे थे, तो सुरक्षा में तैनात सेना की 3-9 ग्रेनेडियर के जवानों ने उन्हें देख लिया। पहले तो आतंकवादियों को चेतावनी दी गई परंतु जब उन्होंने नियंत्रण रेखा से सटे घने जंगलों की ओर जाने का प्रयास किया तो भारतीय जवानों की गोलीबारी में एक आतंकी वहीं ढेर हो गया। आतंकवादी के मारे जाने के बाद अन्य आतंकवादी वापस पाकिस्तान सीमा की ओर भाग गए।

पुलिस ने आतंकवादियों द्वारा किए गए इस घुसपैठ के प्रयास की पुष्टि करते हुए कहा कि सेना ने नियंत्रण रेखा के साथ सटे इलाकों में सर्च ऑपरेशन चलाया। सीमा के साथ लगते गांवों में रहने वाले लोगों को भी सचेत कर दिया है। वहीं एक सैन्य अधिकारी ने बताया कि कश्मीर में आतंकवाद पर कसते शिकंजे से पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठनों के आका अमरनाथ यात्रा शुरू होने से पहले-पहले हमलों को बढ़ाने की योजना बना रहे हैं। खुफिया एजेंसियों ने पहले ही जम्मू-कश्मीर पुलिस व सेना को सतर्क कर रखा है।

सेना ने पहले ही सीमा पर चौकसी बढ़ाई हुई है। घुसपैठ को नाकामयाब बनाने के लिए भारतीय जवान दिन-रात सीमा पर तैनात हैं। पाकिसतान कितनी भी कोशिश कर रहे, उसे हर बार इसी तरह मुंह की खानी पड़ेगी।

Edited By: Rahul Sharma