जम्मू, एएनआई। जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटने के ठीक पहले भारतीय सेना ने पाकिस्तानी आतंकवादियों की बड़ी घुसपैठ को नाकाम किया था। 30 जुलाई को कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर से सटी नियंत्रण रेखा के नजदीक भारतीय सेना ने घुसपैठ का प्रयास कर रहे आतंकवादियों के बड़े दल को देखा और उन पर फायरिंग की। भारतीय सेना की फायरिंग को देखते हुए आतंकवादी वहां से भाग खड़े हुए और अपने क्षेत्र में चले गए।

जानकारी हो कि भारतीय सेना को 30 जुलाई को कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिली। इसके तुरंत बाद सेना के जवानों ने कार्रवाई शुरू की। सेना की कार्रवाई और जवानों की मुस्तैदी से सहमे आतंकी जैसे तैसे जान बचाकर भागे। आतंकवादी भारतीय चौकियों पर हमले और घुसपैठ की फिराक में थे।

आतंकवादी भारतीय सीमा में घुसपैठ का प्रयास कर रहे थे और उनकी योजना भारतीय पोस्ट पर हमला करने की थी। लेकिन समय रहते भारतीय सैनिकों ने कार्रवाई की और घुसपैठ का प्रयास कर रहे आतंकवादियों को भागने पर मजबूर कर दिया। आतंकवादी भारतीय सीमा में घुसपैठ का प्रयास कर रहे थे और उनकी योजना भारतीय पोस्ट पर हमला करने की थी। लेकिन समय रहते भारतीय सैनिकों ने कार्रवाई की और घुसपैठ का प्रयास कर रहे आतंकवादियों को भागने पर मजबूर कर दिया। केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से संविधान की धारा 370 हटाने का फैसला किया और साथ में जम्मू-कश्मीर तथा लद्दाख को अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने का भी निर्यण हुआ था।

Indian Army detected Pakistani terrorists near LoC in Kashmir’s Kupwara sector on 30 Jul.Indian troops started firing at them as soon as terrorists were detected&forced them to return to their territory.They were attempting to infiltrate&carry out attacks on Indian positions. pic.twitter.com/WlKT9VF6Cd

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप