जम्मू, राज्य ब्यूरो: जम्मू कश्मीर में कोरोना की तीसरी लहर को रोकने की तैयारियों के बीच संक्रमण के 160 नए मामले सामने आने के साथ जम्मू में एक मरीज की मौत हो गई।

बुधवार को सामने आए नए मामलों में से 60 जम्मू संभाग से तो 100 मामले कश्मीर संभाग से सामने आए हैं। वहीं बुधवार को 144 और मरीज ठीक होकर घरों को लौट गए। इनमें से 43 जम्मू संभाग से हैं तो वहीं 101 लोग कश्मीर से हैं। इसी बीच 160 नए मामले सामने आने के साथ इस समय प्रदेश में संक्रमित लोगों को आंकड़ा 321026 तक पहुंच गया है। इनमें से 1139 मरीजों का इलाज चल रहा है। प्रदेश में अब तक कोरोना से 4376 लोगों की मौत हुई है।

प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग की ओर से लोगों का इलाज करने के साथ अपनी टीमों को तीसरी लहर की रोकथाम के लिए ट्रैनिंग भी दी जा रही है। इसके साथ विभाग की लगातार हो रही बैठकों में संक्रमण के मौजूदा हालात पर भी कार्रवाई की जा रही है। लोगों को जागरूक बनाने के साथ विभाग ने संक्रमित होने वाले गर्भवति महिलाओं व छोटे बच्चों के लिए एंबुलेंस सेवा भी शुरू की है।

वहीं दूसरी ओर कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बड़े पैमाने पर प्रशासन की ओर से लोगों की वैक्सीनेशन करने की मुहिम भी चलाई जा रही है। जिला प्रशासन इस समय स्वास्थ्य विभाग के साथ पूरी तरह से समन्वय बनाकर काम कर रहा है।

सांबा के असिस्टेंट कमिश्नर अटैच: जम्मू-कश्मीर सरकार ने सांबा जिले के असिस्टेंट कमिश्नर, राजस्व मिश्रा को सामान्य प्रशासनिक विभाग में अटैच कर दिया है।सूत्रों के अनुसार सरकार ने यह कार्रवाई उक्त अधिकारी के खिलाफ लोगों की शिकायतों के आधार पर की है। सांबा नगर परिषद के कुछ जनप्रतिनिधियों की ओर से उनके खिलाफ विकास संबंधी मामलों में सहयोग न करने का मुद्दा उठाया जा रहा था। कार्रवाई के कारणों की अधिकारिक रूप से पुष्टि नही की गई है। ऐसे में सरकार ने बुधवार को कार्रवाई करते हुए जम्मू कश्मीर प्रशासनिक सेवा के अधिकारी को श्रीनगर सचिवालय में सामान्य प्रशासनिक विभाग में अटैच कर दिया। यह आदेश सरकार के आयुक्त सचिव मनोज कुमार द्विवेदी की ओर से जारी किया गया है।

Edited By: Rahul Sharma