जम्मू, जागरण संवाददाता : जम्मू में जब तक एक सर्व-सेवाओं से संपन्न लॉजिस्टिक सेंटर (रसद केंद्र) स्थापित नहीं होता, आर्थिक विकास की दिशा में दिक्कतें आती रहेंगी। जिले में नरवाल के निकट ट्रांसपोर्ट नगर लॉजिस्टिक हब के रूप में विकसित किया जा सकता है, लेकिन ऐसा करने के लिए ट्रांसपोर्ट नगर में सड़कों की हालत सुधारने के साथ बिजली, साफ-सफाई व संपूर्ण ढांचागत विकास की आवश्यकता है। यह मांग शुक्रवार को पीएचडी चैंबर आफ कामर्स एंड इंडस्ट्री की ओर से आयोजित वेबिनार में उठी, जिसमें जम्मू-कश्मीर के उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के आयुक्त सचिव रंजन प्रकाश ठाकुर मुख्य अतिथि रहे।

वेबिनार के दौरान जम्मू-कश्मीर में आर्थिक विकास को गति देने के लिए लॉजिस्टिक सेंटरों की स्थापना पर बल देते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर को बेहतर सड़क, रेल व हवाई मार्ग से जोड़ने की जरूरत है जो 12 महीने सुचारू रहे। इसके अलावा जम्मू से नियमित रूप से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को शुरू करने व दिन-रात घरेलू उड़ानें शुरू करने की जरूरत है। पीएचडी चैंबर जम्मू के चेयरमैन राहुल सहाय ने वेबिनार का संचालन करते हुए कई मुद्दों को ठाकुर के सामने रखा। उन्होंने कहा कि लॉजिस्टिक सेक्टर में जमीन इस्तेमाल को लेकर कई मुद्दे है जिन्हें हल करने के लिए सिंगल विंडो सिस्टम लागू होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि सेना की कालोनियों के निकट निर्माण, कृषि भूमि के इस्तेमाल, गैर मुमकिन खड्ड व पस्सी में निर्माण जैसे कई मुद्दे हैं जिन पर फैसला लेने के लिए सरकार को कमेटी गठित करनी चाहिए। उन्होंने जम्मू-कश्मीर के आर्थिक विकास के लिए रिंग रोड के निकट भवन निर्माण की अनुमति दिए जाने पर भी बल दिया। रंजन प्रकाश ठाकुर ने इस मौके पर बताया कि जम्मू व श्रीनगर में दो इनलैंड कंटेनर डिपो व ड्राई पोर्ट बन रहे हैं। ट्रांसपोर्ट नगर के मुद्दों पर ठाकुर ने कहा कि वह स्वयं ट्रांसपोर्ट नगर का दौरा करेंगे और वहां लॉजिस्टिक सेंटर स्थापित करने के विकल्प का आंकलन करेंगे।

जमीन संबंधी मुद्दों पर ठाकुर ने कहा कि इस मुद्दे पर उच्च स्तर पर विचार किया जा रहा है। वेबिनार के दौरान पीएचडी चैंबर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रदीप मुल्तानी, सह-चेयरमैन विपिन वोहरा व संजय अग्रवाल, कुलदीप गुप्ता, मेंटर राकेश वजीर पीएचडी चैंबर कश्मीर के चेयरमैन बलदेव सिंह रैना व मेंटर मुश्ताक अहमद, अत्तर सिंह एंड संस के मैनेजिंग डायरेक्टर अमरजीत कुकरेजा, चैंबर आफ कामर्स एंड इंडस्ट्री जम्मू के प्रधान अरूण गुप्ता, चैंबर आफ ट्रेडर्स फेडरेशन के प्रधान नीरज आनंद व अन्य शामिल हुए।