जम्मू, जेएनएन। हिजबुल मुजाहिदीन ने शोपियां में धमकी भरे पोस्टर जारी किए। इसमें आम जनता को अनंतनाग-कुलगाम लोकसभा सीट पर 6 मई को होने जा रहे तीसरे चरण की मतदान प्रक्रिया से दूर रहने, सेना, पुलिस व अन्य सुरक्षा एजेंसियों की ओर से आयोजित किए जाने वाले समारोहों, खेल गतिविधियों से दूर रहने के साथ बच्चों को आर्मी स्कूलों में न भेजने का फरमान सुनाया है। आतंकी संगठन ने फरमान न मानने वालों को कौम और जिहाद का दुश्मन बताते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की धमकी दी है।

राज्य पुलिस प्रशासन ने पोस्टरों को बेकार बताते हुए कहा कि यह पहला मौका नहीं है, जब आतंकियों ने इस तरह के पोस्टर जारी किए हों। लोगों को अब इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। पुलिस ने इन पोस्टरों को जब्त कर लिया है। संबंधित पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कर छानबीन की जा रही है। राज्य सरकार ने स्थानीय लोगों से कहा है कि वे पोस्टरों से न घबराएं। यह पोस्टर इसका बात का खुलासा कर रहे हैं कि आम लोग सुरक्षाबलों के साथ हैं। वह अमन बहाली में सहयोग कर रहे हैं। यही बात आतंकियों को खल रही है। वह हताश हो चुके हैं।

हिजबुल मुजाहिदीन के डिस्ट्रीक कमांडर नावेद बाबू उर्फ बाबर आजम द्वारा जारी किए गए ये पोस्टर शोपियां के विभिन्न हिस्सों में मस्जिदों की दीवारों और बिजली के खंभो पर लगाए गए हैं। सुबह जब क्षेत्र के लोग बाजार में आए तो इन पोस्टरों को देख उनमें डर फैल गया। पोस्टरों में आतंकी संगठन ने लोगों को सेना से दूर रहने के सख्त निर्देश दिए हैं। अपने बच्चों को सेना व अन्य सु़रक्षा एजेंसियों द्वारा आयोजित भारत दर्शन यात्रा पर न भेजने, सुरक्षाबलों और पुलिस के साथ किसी तरह का संवाद न करने की ताकीद करते हुए गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई है।

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप