पुंछ, जेएनएन। जम्मू संभाग के जिला पुंछ में एक बड़ी दुर्घटना होने से टल गई। सेना का एडवांस लाइट हेलीकाप्टर (एएलएच) जिसमें उत्तरी कमान के सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह अन्य सात सैन्य अधिकारियों के साथ बैठे हुए थे, उसमें अचानक तकनीकी खराबी आ गई। पायलट ने इस पर सूझबूझ बरतते हुए तुरंत हेलीकाप्टर की सुरक्षित लैंडिंग करवा दी। इससे हेलीकाप्टर में सवार उत्तरी सेना प्रमुख सहित सभी अधिकारी सुरक्षित हैं।

सूत्रों के अनुसार यह घटना दोपहर 2 बजे के करीब की है। सैन्य प्रमुख रणबीर सिंह अन्य अधिकारियों के साथ हैलीकाप्टर पर नियंत्रण रेखा के साथ लगे इलाकों की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए निकले थे। अचानक हेलीकाप्टर में कोई तकनीकी खराबी आ गई। पायलट ने अपनी कुशलता का प्रदर्शन करते हुए पुंछ के सब्जियां इलाके में हेलीकाप्टर की सुरक्षित लैडिंग करवाई। जमीन पर हेलीकाप्टर के उतरते ही सेना प्रमुख सहित अन्य अधिकारियों को हेलीकाप्टर से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया।

हेलीकाप्टर में क्या तकनीकी खराबी आई थी इसके बारे में अभी तक किसी तरह की जानकारी नहीं मिल पाई है लेकिन सेना के अधिकारी उत्तरी सेना प्रमुख सहित सभी अधिकारियों को पुंछ से सुरक्षित वापिस लाने के लिए रवाना हो गए हैं। दरअसल गुलाम कश्मीर में भारतीय सेना की कार्रवाई के बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने जिला पुंछ के नियंत्रण रेखा से सटे रिहायशी इलाकों में गोलाबारी शुरू कर दी है।

यही नहीं जिला राजौरी में भी पाकिस्तानी सैनिकों की गोलीबारी की आड़ में आतंकियों के एक दल ने भारतीय चौकी पर हमला बोलते हुए नायब सूबेदार को शहीद कर दिया था। बताया जा रहा है कि भारतीय जवानों का मनोबल बढ़ाने और सीमा पर सुरक्षा व्यवस्था को कड़ा बनाने के लिए ही सेना प्रमुख जिला पुंछ आए हुए हैं।

वहीं जम्मू के पीआरओ डिफेंस लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि तकनीकी खराबी की वजह से हेलीकाप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी। इसमें सवार सभी सैन्य अधिकारी सुरक्षित हैं।

 

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप