जम्मू, जागरण संवाददाता : किसी भी शहर का मुख्य बस स्टैंड उस शहर का आइना होता है। बाहर से आने वाला हर व्यक्ति यहीं उतरता हैं। यहां की हालत देखकर ही उसके दिमाग में शहर की तस्वीर बन जाती है। जम्मू के मुख्य बस स्टैंड में जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे हैं जिससे कोई भी जम्मू शहर के खूबसूरत होने की तस्वीर अपने मन में बसा नहीं पाएगा। इन गंदगी के ढेरों को न तो समय पर उठाया जा रहा है और न ही कोई सफाई के प्रति गंभीर है।

यह स्थिति तब है जब जम्मू नगर निगम शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण में अच्छी रैंकिंग दिलाने के लिए जोरशोर से प्रयास कर रहा है। हालत यह है कि मुख्य बस स्टैंड परिसर में फैली गंदगी यात्रियों का मुंह चिढ़ा रही है। जगह-जगह गंदगी के ढेरों से उठती बदबू मुंह पर रुमाल रखने को मजबूर कर रही है। न तो जम्मू नगर निगम इस दिशा में कोई प्रभावी कदम उठा पाया है और न ही जम्मू विकास प्राधिकरण इसके लिए कुछ करता दिख रहा है। हफ्ते-दस दिन में में एक-दो बार जेडीए की गाड़ी कचरा उठाने को पहुंचती है। इस कारण यहां कचरे के ढेर लगे रहते हैं। इस परेशानी से बस स्टैंड में उतरने वाले यात्री तो बेहाल हैं ही, स्थानीय दुकानदार भी दुखी हैं। उनका कहना है कि बस स्टैंड जेडीए के अधीन आता है लेकिन जेडीए के पास साफ-सफाई के लिए तो न कर्मचारी हैं और न ही व्यवस्था। इस कारण शुरू से ही दिक्कतें रही हैं।

जब पूरे शहर में जम्मू नगर निगम सफाई देखता है। रोजाना डोर-टू-डोर कचरा उठाया जाता है तो बस स्टैंड में भी ऐसा होना चाहिए। स्थानीय दुकानदार रमेश कुमार, राज कुमार, लतीफ मोहम्मद का कहना है कि जैसे मुहल्लों में रोजाना निगम का आटो कचरा उठाने आता है, ऐसे ही बस स्टैंड में आटो आना चाहिए। दुकानदार इसके लिए निगम को निर्धारित देने से भी पीछे नहीं हट रहे। उनका कहना है कि मेयर मामले में हस्तक्षेप कर बस स्टैंड की सफाई का जिम्मा निगम को दिलवाएं। तभी समस्या से राहत मिलेगी और जम्मू शहर स्वच्छता की ओर बढ़ पाएगा। वहीं मेयर चंद्र मोहन गुप्ता का कहना है कि वह इस संबंध में अधिकारियों से बात करेंगे। जल्द ही इस संबंध में निर्णय लिया जाएगा। लोगों को बेहतर सफाई मिलनी चाहिए। पूरे शहर को साफ-सुथरा बनाने के प्रयास निगम कर रहा है।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021