जम्मू, राज्य ब्यूरो। राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि केंद्र सरकार अगर जम्मू कश्मीर की कायाकल्प कर दे तो पाकिस्तान से बिना युद्ध लड़े गुलाम कश्मीर हमें मिल जाएगा। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर से विकास की महक गुलाम कश्मीर तक जानी चाहिए।

बिजली प्रोजेक्टों के उद्घाटन और नींव पत्थर रखने के कार्यक्रम में राज्यपाल ने कहा कि अगर जम्मू कश्मीर विकास की नई ऊंचाइयां छूता है तो विश्वास करें कि गुलाम कश्मीर के लोग एक साल के अंदर बगावत कर जम्मू कश्मीर के हो जाएंगे। राज्यपाल ने गुलाम कश्मीर को लेकर बयानबाजी करने वालों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि हमारे बहुत सारे मंत्री गुलाम कश्मीर का अगला लक्ष्य बता रहे हैं। ये वह मंत्री हैं, जिन्हें अंतरराष्ट्रीय मामलों पर बोलने का मौका नहीं मिलता है।

वे ऐसे कहते हैं कि हम गुलाम कश्मीर को अपने कब्जे में ले लेंगे। उन्होंने कहा कि हम लड़ाई के बजाय जम्मू कश्मीर की तरक्की के आधार पर गुलाम कश्मीर को वापस ले सकते हैं। कार्यक्रम में केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री आरके सिंह भी मौजूद थे। राज्यपाल ने कार्यक्रम में केंद्र प्रायोजित योजनाओं के तहत बने बिजली के 15 प्रोजेक्टों का उद्घाटन व 20 प्रोजेक्टों का नींव पत्थर भी रखा।

जम्मू कश्मीर व लद्दाख में ऊर्जा क्षेत्र को बढ़ावा देने की रूपरेखा बनाई

केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आरके सिंह ने बुधवार को श्रीनगर में जम्मू कश्मीर व लद्दाख में ऊर्जा क्षेत्र को बढ़ावा देने की रूपरेखा बनाई। उन्होंने राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात कर उन्हें ऊर्जा क्षेत्र में विकास के लिए उठाए कदमों के बारे मे बताया। जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार जम्मू कश्मीर दौरे पर आए आरके सिंह ने श्रीनगर में संबंधित विभागों के अधिकारियों से जम्मू कश्मीर में ऊर्जा क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा भी की। उन्होंने जोर दिया कि ऊर्जा क्षेत्र की केंद्र प्रायोजित योजनाओं को समय पर पूरा करने के लिए काम किया जाए। राजभवन में राज्यपाल से बैठक के दौरान केंद्रीय राज्यमंत्री ने बिजली उत्पादन बढ़ाने, सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने व कौशल विकास के बारे में बताया। इस दौरान जम्मू कश्मीर व लद्दाख में शत प्रतिशत घरों में बिजली पहुंचाने के लिए हो रहे काम पर भी विचार विमर्श किया गया। केंद्र मंत्री ने कहा कि राज्य को ऊर्जा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।

तीन सहमति पत्रों पर हुए हस्ताक्षर

बिजली प्रोजेक्टों के उद्घाटन और नींव पत्थर रखने के कार्यक्रम में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सौभाग्य एक्सीलेंस अवार्ड मिलने पर बिजली विभाग को बधाई भी दी। कार्यक्रम में तीन सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर भी हुए। इनमें जम्मू व श्रीनगर शहरों में स्ट्रीट लाइट प्रोजेक्ट के लिए जम्मू व श्रीनगर नगर निगमों और बिजली विभाग में सहमति पत्र पर हस्ताक्षर हुए। दूसरा सहमति पत्र 10 गुडविल स्कूलों के डिजिटिलाइजेशन के लिए पावर ग्रिड कॉरपारेशन और सेना की 15 कोर के बीच हुआ। तीसरे सहमति पत्र पर हस्ताक्षर वागूरा लिंक रोड की बेहतरी के लिए पावर ग्रिड कॉरपारेशन और सड़क भवन निर्माण विभाग के बीच हुए।

 

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप