जम्मू, जागरण संवाददाता: शहर के बाहरी क्षेत्र घरोटा में वीडियो या तस्वीरें खींचने के काम आने वाला ड्रोन बरामद होने से सुरक्षा बल सतर्क हो गए। हालांकि जांच के दौरान पता चला कि इलाके से बरामद ड्रोन केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी का है। जिसके बाद घरोटा पुलिस ने राहत की सांस ली।

मंगलवार दोपहर 12 बजे के करीब घरोटा के गांव सजवाल में रहने वाले मीर मोहम्मद ने सड़क किनारे झाड़ियों पर एक ड्रोन को हवा से गिरते हुए देखा। मीर मोहम्मद ने इस बात की जानकारी तुरंत फोन पर पुलिस को दी। झाड़ियों में ड्रोन गिरने की सूचना मिलते ही एसएचओ घरोटा ख्याति मान खजूरिया मौके पर पहुंच गए।

पुलिस के साइबर एक्सपर्ट टीम को भी बुला लिया गया। जिन्होंने झाड़ियों से बरामद ड्रोन को अपने कब्जे में ले लिया। इलाके में ड्रोन बरामद होने की सूचना पुलिस ने अन्य सुरक्षा एजेंसियों को भी दी। जिसके बाद एक केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी ने पुलिस को बताया कि वह ड्रोन उनका है। वह इलाके में सुरक्षा व्यवस्था और संदिग्ध लोगों की गतिविधियों पर नजर रखने के इस ड्रोन का प्रयोग कर रहे थे। तकनीकी खराबी के कारण अचानक से ड्रोन गिर पड़ा था।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान से अकसर ड्रोन हथियार लेकर जम्मू कश्मीर की सीमा में प्रवेश करते हैं। इसके चलते सुरक्षा बल ड्रोन को लेकर अलर्ट रहते हैं। लेकिन जो यह ड्रोन पुलिस को मिला है, उनका प्रयोग केवल तस्वीरों या वीडियो बनाने में ही किया जाता है। ड्रोन से बरामद रिकॉर्डिंग को भी खंगाला जा रहा है। 

Edited By: Rahul Sharma