जम्मू, जागरण संवाददाता । केंद्र शासित प्रदेश में लॉकडाउन के कारण क्रिकेट खेल से जुड़े विभिन्न वर्गों के कर्मचारियों की प्रदेश के सीनियर क्रिकेटरों ने सुध ली है। सीनियर क्रिकेटरों ने न सिर्फ क्रिकेट के मैदान में मुकाबले के दौरान अहम भूमिका निभाने वाले ग्राउंडमैन और अन्य स्टॉफ को राशन देकर मदद की बल्कि नकद राशि देकर आर्थिक सहायता भी की।

प्रदेश के सीनियर क्रिकेटरों ने पूर्व रणजी क्रिकेटर राजेश गिल के नेतृत्व में जीजीएम साइंस कॉलेज ग्राउंड, परेड ग्राउंड और सतवारी ग्राउंड में कार्यरत 20 ग्राउंडमैन, अम्पायर और स्कोरर को 1000 रुपए की राशि प्रदान की। सीनियर क्रिकेटर की ओर से सभी को डेढ़ महीने का राशन और मास्क भी वितरित किया गया। गिल ने कहा कि जब कभी भी इन मैदानों में मुकाबले होते थे तो उस समय यहीं ग्राउंडमैन, स्कोरर और अम्पायर उन्हें काफी सहयोग करते थे लेकिन अब संकट की इस घड़ी में उनकी सुध लेना अब उनका दायित्व बनता है। काेरोना वायरस संक्रमण से रोकथाम के लिए जारी लॉकडाउन के दौरान जब तक स्थिति सामान्य नहीं हो जाती तब तक इन 20 ग्राउंडमैन और अन्य सहयोगियों को मदद जारी रहेगी।

भविष्य में प्रत्येक माह सीनियर क्रिकेटरों की ओर से सभी को राशन और 1000 रुपए की राहत राशि प्रदान की जाएगी।

सीनियर क्रिकेटरों की ओर से अविनाश कुमार और राकेश कौल ने चार-चार हजार, राज खजूरिया ने दो हजार, राजेश गिल, सुधीर सिंह, अमित गुप्ता, सलीम उर रहमान, मदन मोहन और अमित कुमार की ओर से एक-एक हजार रुपए की मदद की गई है।  इसी बीच जूनियर क्रिकेटरों ने भी अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझते मदद के लिए हाथ बढ़ाए हैं। रोहण गिल, अचिंत्य खजूरिया और आशुतोष ने अपने-अपने जेबखर्च से एक-एक हजार रुपए का भी सहयोग दिया है। गौरतलब है कि इसे पूवर् भी प्रदेश के सीनियर क्रिकेटर अन्य राज्यों के पूवर् रणजी क्रिकेटरों की मदद करने के लिए आगे आ चुके हैं।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस