श्रीनगर, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर में शीत लहर का प्रकोप जारी है। कश्मीर में आज भी घने कोहरे के कारण हवाई सेवाएं बहाल नहीं हो पाई। जम्मू के पहाड़ी इलाकों में जहां बारिश हुई वहीं कश्मीर के उच्च पर्वतीय इलाकों में हल्की बर्फबारी के बाद तापमान में और गिरावट दर्ज की गई है। नदी-नालों के अलावा अब नल का पानी भी बर्फ बनने लगा है। कश्मीर संभाग में तापमान सामान्य से काफी नीचे चल रहा है। श्रीनगर का अधिकतम तापमान 3.2 और न्यूनतम तापमान -2.5 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है।

इसी तरह पहलगाम का अधिकतम तापमान 3.8 और न्यूनतम तापमान -3.3 डिग्री सेल्सियस रहा। लेह का अधिकतम तापमान 1.1 और न्यूनतम तापमान -13.6 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़क गया है। जम्मू का दिन का अधिकतम तापमान 19.4 और न्यूनतम तापमान 8.7 डिग्री सेल्सियस रहा। बनिहाल का अधिकतम तापमान 13.6 और न्यूनतम तापमान 2.0 डिग्री सेल्सियस रहा। बटोत का अधिकतम तापमान 12.2 और न्यूनतम 3.9, कटड़ा का अधिकतम तापमान 16.4, न्यूनतम तापमान 8.6 डिग्री सेल्सियस रहा। भद्रवाह का अधिकतम तापमान 11.5 डिग्री सेल्सियस जबिक न्यूनतम तापमान 2.0 डिग्री सेल्सियस रहा।

श्रीनगर में बने घने कोहरे के प्रकोप के कारण लगातार छठे दिन भी श्रीनगर एयरपोर्ट की सभी उड़ानों को रद कर दिया गया। महज सौ से पांच सौ मीटर की दृश्यता रहने के चलते न तो कोई उड़ान यहां से गई और न ही कोई विमान उतारा जा सका। उड़ान भरने और उतरने के लिए दृश्यता एक हजार मीटर से 1200 मीटर होनी चाहिए।

कश्मीर में पिछले छह दिन से कड़ाके की ठंड जारी है। घाटी के उच्चस्तरीय इलाकों में हल्की बर्फबारी के बाद आज श्रीनगर से लेह का मुख्य मार्ग जोजिला पास भी वाहनों की आवाजाही के लिए बंद कर दिया गया। इसी तरह मुगल रोड भी बर्फबारी के बाद बंद कर दिया गया। प्रशासन का कहना है कि बर्फबारी थमने के बाद इसे हटाने का काम शुरू किया जाएगा।  सुबह व शाम के समय धुंध के चलते नेशनल हाइवे समेत सभी मार्गो पर वाहनों की आवाजाही काफी कम है। जो वाहन चल भी रहे हैं उनकी रफ्तार बेहद कम है।

हाईवे की स्थिति जानकर निकलें घर से

जम्मू कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ का दबाव लगातार बन रहा है। राज्य में बुधवार यानी आज से बारिश शुरू होने के आसार हैं। कल 12-13 दिसंबर के बीच भारी बारिश और बर्फबारी की संभावना जताई गई है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक सोनम लोटस ने बताया कि बिगड़ते मौसम को देखते हुए जम्मू श्रीगनर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी सफर करने वालों को ट्रैफिक कंट्रोल रूम से पूरी जानकारी लेने के बाद ही घरों से निकलने की सलाह दी गई है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस