श्रीनगर, जेएनएन। बर्फबारी व बारिश के कारण पिछले चार दिनों से शेष भारत से कटकर रह गई कश्मीर घाटी में हवाई सेवाएं अांशिक तौर पर बहाल हो चुकी हैं। श्रीनगर एयरपोर्ट के रनवे से बर्फ हटा दी गई है। जबकि दोपहर बाद विजिबिल्टी बेहतर होने पर एयरपोर्ट अथारिटी आफ इंडिया ने हवाई सेवाएं बहाल कर दी। हालांकि रामबन-बनिहाल के बीच हुए गत रात को हुए तूाजा भूस्खलन की वजह से 295 किलोमीटर लंबा जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाइवे अभी भी बंद है। इसे पूरी तरह से सुचारू होने में अभी समय लगेगा।

बुधवार-वीरवार की मध्यरात्रि को एक बार फिर जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर स्थित जिला रामबन में डिगडोल, बंदर मोड़, मौम्पासी, पथियाल और चंदरकोट में भूस्खलन हो गया। स्थानीय प्रशासन के अनुसार हाइवे को यातायात के लिए पूरी तरह से सुचारू बनाने में दो दिन का समय और लग सकता है। इस पर भी अगर मौसम एक बार फिर खराब हो जाता है तो यह अवधि बढ़ भी सकती है। जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर इस समय सात हजार से अधिक वाहन फंसे हुए हैं।

ट्रैफिक पुलिस के अनुसार ताजा भूस्खलन ने रामबन जिले में पांच स्थानों पर राजमार्ग को प्रभावित किया है। पीडब्ल्यूडी के कर्मचारी और बीआरओ की मशीनें हाइवे पर गिरे मलवे को हटाने का काम कर रहे हैं। अभी भी पहाड़ों से पत्थर गिरने का सिलसिला जारी है। जिसकी वजह से काम में देरी हो रही है। उन्होंने बताया कि हाइवे रविवार को हुई बर्फबारी के बाद से ही बंद है। हाइवे बंद होने के कारण सात हजार से अधिक वाहन लखनपुर, जम्मू, ऊधमपुर, रामबन, बनिहाल और कश्मीर की ओर जाने वाले विभिन्न स्थानों पर फंसे हुए हैं।

वहीं हाइवे पर फंसे ट्रक ड्राइवरों ने कहा कि पिछले चार दिनों से वे यहां फंसे हुए हैं। अब तो उनके पास भोजन खरीदने के लिए भी रूपये नहीं बचे हैं। उन्होंने सरकार से अपील की कि वे उन्हें राहत प्रदान करने के लिए प्रभावी कदम उठाएं। हाइवे पर फंसे ट्रक चालकों को नियमित रूप से खाना मिल सके इसके लिए उन्होंने सरकार से सामुदायिक रसोई स्थापित करने की व्यवस्था करने का आग्रह भी किया। इसके साथ ही उन्होंने हाइवे को जल्द से जल्द खोलने की मांग भी की। ट्रैफिक विभाग ने लखनपुर, जम्मू और ऊधमपुर में यह सख्त हिदायत दी है कि हाइवे पर फंसे वाहनों के निकलने के बाद ही वे नए वाहनों को घाटी के लिए रवाना करें।

वहीं कश्मीर की बात करें तो आज वहां मौसम बेहतर रहा। हालांकि ठंड का प्रकोप अभी भी बना हुआ है। सुबह रनवे पर बर्फ जमी होने की वजह से श्रीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हवाई सेवाएं प्रभावित हैं। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया, श्रीनगर के डायरेक्टर संतोष ढोके ने बताया कि रनवे पर बर्फ हटा दी गइ थी। दोपहर बाद विजिबिल्टी बेहतर होने के बाद सेवा को बहाल का दिया गया। 

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस