राजौरी, जागरण संवाददाता : जम्मू-पुंछ हाईवे पर शनिवार को सुबह ट्रक के गढ्डे में फंस जाने के कारण पाच घटों तक वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से ठप रही। पाच घटों के बाद हल्के वाहनों के लिए मार्ग को तैयार किया गया, जिसके बाद हल्के वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई, लेकिन बड़े वाहनों की आवाजाही अभी भी बंद चल रही है। जानकारी के अनुसार हाईवे को चौड़ा करने का कार्य पिछले काफी समय से चल रहा है।

बारिश होने के कारण पूरे मार्ग पर फिसलन हो गई। इसी दौरान शनिवार को सुबह भारी सामान से लदा ट्रक जो जम्मू से पुंछ की तरफ जा रहा था, जैसे ही बगनोटी क्षेत्र में पहुंचा तो ट्रक गढ्डे में फंस गया। इससे हाईवे पर वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से थम गई। पाच घटों तक वाहनों की आवाजाही रुकी रही। पाच घटों के बाद हल्के वाहनों के लिए मार्ग को खोला गया, जबकि बड़े वाहनों की आवाजाही अभी भी पूरी तरह से ठप चल रही है। सड़क निर्माण कार्य में जुटे कर्मी व अधिकारी मार्ग को जल्द से जल्द बहाल करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन अभी तक मार्ग पूरी तरह से बहाल नहीं हो पाया है। जम्मू की तरफ से आने-जाने वाले लोग अब वाया कालाकोट होकर ठंडा पानी से निकल रहे हैं या फिर वाया सेरी से जाकर सुंदरबनी से निकल कर जम्मू पहुंच रहे हैं। इससे स्थानीय लोगों को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शनिवार दोपहर को हुई भारी बारिश और आधी के बीच सुंदरबनी के काठानू में बिजली का खंभा मकान की छत पर जा गिरा। बिजली का खंभा मकान की छत पर गिरने से मकान में दरारें आ गई।

जानकारी के अनुसार सुंदरबनी के वार्ड नंबर आठ के रहने वाले रमेश चंद्र पुत्र बद्रीनाथ के मकान के पास एक बिजली का खंभा लगा हुआ था, जो पिछले कुछ समय से जर्जर हो चुका था। सुंदरबनी नगर पालिका के उप चेयरमैन मोहन लाल पराशर ने बताया कि बिजली विभाग से दर्जनों बार खंभे को दुरुस्त करने की गुहार लगाने के बाद भी विभाग उसे दुरुस्त नहीं कर पाया और आज भारी बारिश के बीच पोल मकान की छत पर आ गिरा, जिसमें परिवार के किसी सदस्य को कोई नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन मकान में काफी दरारें आ गईं। मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर एडीसी सुंदरबनी विनोद कुमार अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के साथ पहुंचे और जायजा लिया।